×

Auraiya News: लगाने जा रहे थे फूलन देवी की प्रतिमा, पुलिस ने कब्जे में लिया

Auraiya News: दस्यु सुंदरी और पूर्व सांसद फूलन देवी के शहादत दिवस पर आई प्रतिमा को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया।

Pravesh Chaturvedi

Pravesh ChaturvediReport Pravesh ChaturvediDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 25 July 2021 3:30 PM GMT

Phoolan Devi
X

फूलने देवी क शहादत दिवस मनाने जुटे लोग (फोटो: सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Auraiya News: दस्यु सुंदरी और पूर्व सांसद फूलन देवी के शहादत दिवस पर आई प्रतिमा को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया। इसके बाद समाज के लोगों ने गुप्त रूप से उनका शहादत दिवस गांव के ही एक विद्यालय में मनाया। सूत्रों की मानें तो अनुमति मिलने के बाद प्रतिमा का अनावरण किया जायेगा।

मूल रूप से जालौन जनपद के ग्राम गुढ़ा निवासी दस्यु सुंदरी रही फूलन देवी की ससुराल कानपुर देहात के महेशपुर गांव में थी। 1981 फरवरी में बेहमई कांड के बाद फूलन देवी 1983 में समर्पण कर दिया। 11 साल जेल में रहने के बाद सपा सरकार में आरोप वापिस होने पर 1994 में जेल से बाहर निकलकर 1999 में सपा पार्टी से सांसद निर्वाचित हुई थी और 25 जुलाई को 2000 को फूलन की हत्या कर दी गई थी। हत्या को लेकर निषाद समाज के लोग शहादत दिवस मनाते चले आ रहे हैं।
इसी को लेकर गत शनिवार को विकासशील इंसान पार्टी की ओर से क्षेत्र के ग्राम जैनपुर भीखेपुर में फूलन देवी की प्रतिमा को अनावरण के लिये लाया गया था जिसकी भनक पुलिस प्रशासन को लगते ही पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रदीप कुमार के नेतृत्व में अजीतमल व अयाना थाना का भारी पुलिस बल जैनपुर गांव में पहुंच गया। जहां अनुमति न दिखा पाने के चलते पुलिस प्रशासन ने प्रतिमा को अपने कब्जे में ले लिया और अयाना थाना पहुंचा दिया।
गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया। फिर भी रविवार को जैनपुर गांव के एक निजी विधालय में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मूलचरण निषाद के नेतृत्व में पार्टी के कार्यकर्ताओे एवं निषाद समाज के भारी संख्या में मौजूद लोगों में आत्माराम, दीपचन्द, सनोज, जिलाध्यक्ष इटावा योगेन्द्र निषाद, बिहार से आये राजेश साहनी, भगवती देवी, श्याम सिंह आदि ने फूलन देवी का शहादत दिवस मनाया।
मूलचन्द निषाद ने बताया कि 18 मण्डलों मे शहादत दिवस पर प्रतिमा का अनावरण किया जाना था। जिसको लेकर अनुमति प्रदान करने की बात कही गई थी। किन्तु किसी कारणवश अनुमति नहीं मिल सकी। मौके पर आई पुलिस ने प्रतिमा को अपने कब्जे में ले लिया। अनुमति मिलते ही प्रतिमा का अनावरण किया जायेगा। इस सम्बन्ध में सीओ अजीतमल प्रदीप कुमार ने बताया कि प्रतिमा अनावरण की खबर मिली थी। अनुमति पत्र न होने के कारण प्रतिमा को कब्जे में लेकर अयाना थाना में सुरक्षित करवा दिया गया था।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story