×

Block Pramukh Election 2021: इटावा में बीजेपी नेता ने एसपी सिटी को जड़ा थप्पड़, समर्थकों ने जमकर काटा बवाल

Block Pramukh Election 2021: विमल भदौरिया व इनके एक समर्थक प्रधान ने एसपी सिटी के थप्पड़ मार दिया और कई राउंड फायरिंग करते हुए बाद रोड पर फरार हो गए।

Sandeep Mishra

Sandeep MishraReport Sandeep MishraDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 10 July 2021 1:57 PM GMT

Block Pramukh Election 2021
X

इटावा में बवाल (फोटो: सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Block Pramukh Election 2021: उत्तर प्रदेश के इटावा जनपद में भाजपा नेताओं ने पुलिस अधिकारियों के साथ जमकर अभद्रता की। कई राउंड फायरिंग भी की। जनपद में उदी ब्लॉक मतदान केंद्र पर भाजपा नेता विमल भदौरिया, सदर विधायिका सरिता भदौरिया व भाजपा जिलाध्यक्ष अजय धाकरे अपने अपने समर्थकों के साथ सुबह ही पहुंच गए। मतदान शुरू होते ही भाजपा नेताओं ने अपने सभी बीडीसी सदस्यों के मतदान करवा दिये। जब सपा समर्थक वीडीसी सदस्य मतदान करने के लिये आना शुरू हुए, तो भाजपा नेताओं ने उन्हें रोकना शुरू कर दिया। इस पर स्थानीय सपा व भाजपा नेताओं में कहासुनी होने लगीं।

तभी भाजपा नेता विमल भदौरिया ने माहौल में दहशत फैलाने के लिये हवाई फायर कर दिया। इस घटना की सूचना मिलने पर एसपी सिटी प्रशांत कुमार व सीओ सदर भी मौके पर पहुंच गए और एसपी सिटी ने भाजपा नेताओं ने बवाल न करने और मतदान केंद्र से हटने के लिये कहा। मौके पर मौजूद हमारे सूत्र बताते हैं कि इसी गर्मागर्मी के दौरान विमल भदौरिया व इनके एक समर्थक प्रधान ने एसपी सिटी के थप्पड़ मार दिया और कई राउंड फायरिंग करते हुए बाद रोड पर फरार हो गए। हमारे सूत्रों ने यह भी जानकारी दी है कि इस वबाल के दौरान सदर विधायक सरिता भदौरिया व भाजपा जिलाध्यक्ष अजय धाकरे भी मौजूद बने रहे लेकिन इन दोने नेताओ ने अपने भाजपा नेताओं को बवाल करने से नहीं रोका।


इस मामले में जब न्यूजट्रैक की टीम ने इटावा एसएसपी ब्रजेश सिंह से बात की तो उन्होंने बताया कि इस मामले में किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने बताया कि मतदान अभी खत्म हुआ है। अब सभी वीडियो की जांच कर आरोपियों की पहचान कर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। भाजपा नेता विमल भदौरिया इटावा के भाजपा सांसद रामशंकर कठेरिया व भाजपा जिलाध्यक्ष अजय धाकरे के खास लोगों में अपनी गिनती रखता है और इस बार 2022 के विधानसभा चुनाव में इटावा सदर सीट से भाजपा से चुनाव लड़ने की तैयारी भी कर रहा है। इसीलिये यह भाजपा नेता विमल भदौरिया चर्चा में रहने के लिये इस तरह की घटनाओं को अंजाम देता आ रहा है।


भाजपा नेता विमल भदौरिया इससे पूर्व सपा में रहा था और जिला पंचायत अध्यक्ष अंशुल यादव के खास लोगों में अपनी गिनती रखता था। टिकट न मिलने के कारण उसने सपा छोड़ दी थी। पूर्व भी इस भाजपा नेता ने स्नातक एमएलसी के चुनाव में भी इसी उदी पोलिंग बूथ पर निर्दलीय प्रत्याशी हरिकिशोर तिवारी के बेटे व पत्रकारो के साथ भी पोलिंग के भीतर जमकर मारपीट की थी। तब इटावा के तत्कालीन एसएसपी आकाश तोमर ने भाजपा नेता की हिस्ट्रीशीट खोलते हुए कई मामले दर्ज किये थे।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story