×

Etawah News: नदी में गिरने से तीन बच्चों के पिता की डूबकर दर्दनाक मौत

Etawah News: यूपी के इटावा (Etawah) में दर्दनाक हादसा हो गया है।

Uvaish Choudhari

Uvaish ChoudhariReport Uvaish ChoudhariShwetaPublished By Shweta

Published on 10 Aug 2021 5:52 PM GMT

नदी में गिरने से अधेड़ की मौत
X

नदी में गिरने से अधेड़ की मौत

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Etawah News: यूपी के इटावा (Etawah) में दर्दनाक हादसा हो गया है। आज यानी मंगलवार को जिले भरथना कोतवाली क्षेत्र अन्तर्गत पुल के पास गौवंशों के झगड़े से विजक कर तीन बच्चों के पिता सेंगर नदी में गिर गए, जिसके बाद उनकी दर्दनाक मौत हो गई। उधर घटना की खबर मिलते ही मृतक परिजनों में चीख पुकार के साथ कोहराम मच गया। नदी में डूबता देख ग्रामीणों ने व्यक्ति को नदी से निकाल कर बचाने की कोशिश की, लेकिन नदी से बाहर निकालते ही व्यक्ति ने दम तोड दिया।

घटना की सूचना पर भरथना उपजिलाधिकारी हेमसिंह तहसीलदार हरिश्चन्द्र ने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा है। भरथना कोतवाली क्षेत्र अन्तर्गत पुल गौवंशों के झगड़े से विजक कर सेंगर नदी में गिरे तीन बच्चों के पिता की नदी में डूबने से दर्दनाक मौत हो गई। घटना की खबर मिलते ही मृतक परिजनों में चीख पुकार के साथ कोहराम मच गया।

घटनास्थल पर लोगों की उमड़ी भीड़

नदी में डूबता देख ग्रामीणों ने पानी डूबते व्यक्ति को नदी से निकाल बचाने का प्रयास किया। लेकिन नदी से बाहर निकालते ही व्यक्ति ने दम तोड दिया। घटना की सूचना पर भरथना उपजिलाधिकारी हेमसिंह तहसीलदार हरिश्चन्द्र ने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा है। भरथना कोतवाली क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम सरायचौरी-कुशगंवा को जोडने वाले सेंगर नदी के पुल से मंगलवार की दोपहर करीब साढे तीन बजे मासूम तीन बच्चों का पिता संजीव कुमार 35 वर्ष पुत्र आशाराम कश्यप ग्राम सरायचौरी,भरथना सेंगर नदी में उस समय जा गिरा।

जांच करती हुई पुलिस

जब नदी पुल पर विचरण कर रहे गौवंश आपस मे भिड़ गये। जिससे विजक कर संजीब तेज उफनती सेंगर नदी में डूब गया। इस बीच नदी के आसपास पशुओं को चरा रहे ग्रामीण कृषकों ने उक्त घटना को देखते ही नदी में डूबते संजीव को जीवित बचाने का प्रयास किया। ग्रामीणों ने नदी में घुसकर खोजबीन करते हुए जब तक संजीव को नदी से बाहर निकाला,तब तक संजीव की नदी के पानी मे डूबने से दुःखद मौत हो चुकी। संजीब की नदी में डूब कर मौत की खबर से मृतक की पत्नी सपना,मासूम पुत्र जितेन्द्र,सुनील सहित तीन बच्चे व अन्य परिजनों में चीख पुकार के बीच कोहराम मच गया। घटना की सूचना पर भरथना के उपजिलाधिकारी हेमसिंह,तहसीलदार हरिश्चन्द्र ने पुलिस बल के साथ मौका मुआयना करते हुए मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

Next Story