×

Fatehpur Crime News: छेड़खानी का विरोध करने पर बहनों के साथ मारपीट, कोरोना से हुई थी माता-पिता की मौत

Fatehpur Crime News: मामा के घर पर रही युवती से छेड़छाड़ और जोर जबरदस्ती का मामला सामने आया है।

Ramchandra Saini

Ramchandra SainiReport Ramchandra SainiDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 19 July 2021 2:13 PM GMT

Fatehpur Crime News
X

शिकायत करने एसपी दफ्तर पहुंची पीड़ित बहनें (फोटो: सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Fatehpur Crime News: उत्तर प्रदेश में सरकार की सख्ती के बावजूद अपराधियों का मनोबल सातवें आसमान पर है। प्रदेश के अलग-अलग जिलों से आए दिन छेड़खानी, रेप, हत्या और दबंगों द्वारा मारपीट की खबरें सामने आ रही हैं। ऐसी खबरें सरकार के बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ जैसे अभियान पर बट्टा लगा रही हैं।

अब उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले से ऐसी खबर सामने आई है। जहां अपने मामा के घर पर रही युवती से छेड़छाड़ और जोर जबरदस्ती का मामला सामने आया है। आरोप है कि जब पीड़िता की बड़ी बहन ने विरोध किया तो आरोपियों ने उन्हें लात-घूंसे और डंडे से बुरी तरह से पीटा और पीट-पीटकर लहूलुहान कर दिया।


इसके बाद हद दो तब हो गई जब गंभीर रूप से घायल दोनों बहने मामले की रिपोर्ट लिखवाने थाने पहुंची तो पुलिस ने भी उनकी एक नहीं सुनी। इसके बाद पीड़िता ने एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई। घटना थरियांव थाना क्षेत्र के नौबस्ता गांव की है। मामला बढ़ने के बाद एसपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि प्रॉपर्टी को लेकर दो पक्षो में झगड़ा हुआ था। दोनो पक्ष आपस में रिश्तेदार हैं। दोनो पक्षों का मुकदमा दर्ज किया जा चुका है। घटना की निष्पक्ष विवेचना की जा रही है, जो सत्यता होगी उसी के आधार पर कार्यवाई की जाएगी।
पीड़िता ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से मां बाप की मौत के बाद से हम दोनों बहने अपने छोटे मामा के घर पर रहती हैं। मेरे छोटे मामा बाहर रहते हैं। शुक्रवार को मेरे बड़े मामा का लड़का घर आया और मेरी छोटी बहन के साथ जोर जबरदस्ती करने लगा। जब मैंने विरोध किया तो वह घर के बाहर निकला और अपने भाइयों को बुला लाया और मुझे और मेरी बहन को लात-घूंसे और डंडे से बुरी तरह से मारा पीटा जिससे मेरी बहन का सिर फट गया। उसके आंख और सीने में भी गंभीर चोटें आई हैं। वह लोग हम लोगों को घर से निकलना चाह रहे हैं। इसीलिए हमारे साथ जुर्म और अत्याचार कर रहे हैं।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story