×

Kanpur Dehat News: जनपद के प्रत्येक नागरिक को मिले फाइलेरिया की दवा : डीएम

Kanpur Dehat News: बैठक में वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में बताया गया कि जिले में जल्द ही वैक्सीन ज्यादा मात्रा में उपलब्ध हो जायेगी। जिससे सभी नागरिकों का टीकाकरण किया जा सकता है।

Manoj Singh

Manoj SinghWritten By Manoj SinghPallavi SrivastavaPublished By Pallavi Srivastava

Published on 14 July 2021 8:41 AM GMT

medicine for filariasis
X

समीक्षा बैठक आयोजित pic(social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Kanpur Dehat News: जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में कोविड महामारी से बचाव हेतु समीक्षा बैठक का आयोजन कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित किया गया। आज इस समीक्षा बैठक में वैक्सीनेशन, फाइलेरिया, गोल्डन कार्ड, राहत जैसे महत्वपूर्ण विषयों की चर्चा की गयी। वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में बताया गया कि जिले में जल्द ही वैक्सीन ज्यादा मात्रा में उपलब्ध हो जायेगी। जिससे सभी नागरिकों का टीकाकरण किया जा सकता है।

जानकारी लेते जिलाधिकारी pic(social media)

घर-घर आशाएं भ्रमण कर फाइलेरिया की दवा खिलाएं

बता दें कि आयोजित समीक्षा बैठक में फाइलेरिया के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने कहा कि हर घर में आशाओं का भ्रमण हो और प्रत्येक जनपदवासी को फाइलेरिया की दवा खिलायी जाये। इस सम्बन्ध में जागरुकता फैलाई जाये जिससे इस बीमारी से नागरिक सुरक्षित हो सकें।

वहीं डा0 एपी वर्मा ने बताया कि फाइलेरिया के दवा का वितरण लगातार चल रहा है। इसमें सभी अधिकारी व कर्मचारियों का सहयोग मिल रहा है। जनता भी इसको लेकर उत्साहित दिखायी दे रही है। लेकिन मैथा के एक गांव छतैनी में प्रधान ने स्वयं न तो फाइलेरिया की दवा खाई और न ही गांव के लोगों को इसके लिए जागरुक किया। जिलाधिकारी ने इस पर निराशा व्यक्त करते हुए कहा कि हर जिम्मेदार व्यक्ति को अपने जिम्मेदारियों का निर्वहन करते हुए इन महत्वपूर्ण कार्याें में भागीदारी निभाना चाहिए।

प्रतिदिन बने चार हजार गोल्डन कार्ड

गोल्डन कार्ड के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि चार हजार गोल्डन कार्ड प्रतिदिन बनाये जाएं इसके लिए एडीएम, एसडीएम, बीएलई को अपने स्तर से लगना पड़ेगा। उन्होंने एडीएम वित्त एवं राजस्व से कहा कि जो बीएलई नहीं कार्य कर रहे हैं या कम गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे तो एमओआईसी के वेतन को रोका जाये। हर वो अस्पताल जो गोल्डन गार्ड लाभार्थियों को लाभ नहीं प्रदान कर रहे है उन अस्पतालों को चेतावनी जारी की जाए। क्योकि यह कार्ड किसानों व गरीबों के हित में है।

इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पाण्डेय, अपर जिलाधिकारी प्रशासन पंकज वर्मा, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व साहब लाल, सीएमओ डा0 एके सिंह, डीडीओ गोरखनाथ भट्ट, जिला सूचना अधिकारी नरेन्द्र मोहन, डा0 जतारया, अतिरिक्ति मजिस्टेªट विजय तिवारी आदि उपस्थित रहे।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story