×

बारिश के चलते गिरी दीवार, किसानों से मिलने पहुंचे सपा नेता, एक क्लिक में जानिए आज Kanpur Dehat में क्या-क्या हुआ

कानपुर देहात में कई दिनों से हो रही बारिश के चलते काफी नुकसान हुआ है। एक तरफ भारी बारिश के चलते दीवार गिर गयी वहीं दूसरी तरफ पानी के तेज बहाव से सड़क का कटाव हो गया, जिससे आवाजाही बंद हो गयी है।

Manoj Singh

Manoj SinghReport Manoj SinghAshikiPublished By Ashiki

Published on 30 July 2021 4:08 PM GMT

Kanpur Dehat News
X

किसानों से मिलने पहुंचे सपा नेता

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

रसूलाबाद कानपुर देहात: यूपी के कानपुर देहात में कई दिनों से हो रही बारिश के चलते काफी नुकसान हुआ है। एक तरफ भारी बारिश के चलते दीवार गिर गयी वहीं दूसरी तरफ पानी के तेज बहाव से सड़क का कटाव हो गया, जिससे आवाजाही बंद हो गयी है। बारिश के किसानों का भी काफी नुकसान हुआ है। वहीं आज सपा के पूर्व विधायक कमलेश चन्द्र दिवाकर किसानों मिलने पहुंचे। इस रिपोर्ट में पढ़िए कानपुर देहात की बड़ी खबरें-

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधायक कमलेश चन्द्र दिवाकर ने दर्जनों ग्रामीण अंचलों का दौरा कर प्रशासन से किसानों की फसलों की हुई क्षति के लिए सरकार से मुआवजे की मांग की है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आवाहन पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक कमलेश दिवाकर ने सदस्य जिला पंचायत विश्राम सिंह उर्फ मटल्लू यादव के साथ मकरंदपुर कहिजरी, उसरी, हंसपुर, दानी निवादा, दांती, लालू, असालतगंज, गदाईपुर, कबराभोज सहित दर्जनों गांवों का दौरा किया। इसके बाद रसूलाबाद में पत्रकारों को बताया कि लगातार हो रही भारी बारिश के कारण किसानों की लाखों हेक्टेयर भूमि पर खड़ी फसल जलमग्न हो गयी है, जिससे किसानों के सामने भुखमरी की परिस्थितियां उत्पन्न होने की संभावना प्रबल हो गयी हैं।

उनका कहना था भारी बारिस से ग्रामीण अंचलों के मुख्य सम्पर्क मार्ग भी जलमग्न हो गए हैं। पूर्व विधायक कमलेश चन्द्र दिवाकर ने जलभराव से किसानों की जलमग्न फसलों की भयाभय परिस्थितियो को देखते सरकार से मांग की है कि सरकार किसानों की फसलों की हुई क्षति का सर्वे कराकर किसानों को समुचित मुआवजा दे। इस मौके पर उनके साथ संजय चौहान, बबलू शुक्ला सहित अन्य रहे।

बारिश के चलते गिरी दिवार

बारिश के चलते दिवार सहित टिन शेड भरभरा कर गिर गया, जिसमें दबने से 6 विद्यार्थी घायल हो गए। उपचार के लिए शिक्षक सहित विद्यार्थियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां प्राथमिक उपचार करने के बाद 3 बच्चों को हैलट रिफर किया गया।


रसूलाबाद थाना क्षेत्र के अंतर्गत बड़ागांव कपराहट निवासी वीरेंद्र यादव सरस्वती ज्ञान मंदिर के निकट ही अपनी छोटी सी कोचिंग चलाते थे। शुक्रवार को सुबह वह बच्चों को पढ़ा रहे थे कि तभी अचानक दीवार के साथ टिन शेड भरभरा कर गिर पड़ा। टिन शेड व दीवार गिरने मलबे में दबने से आलमीन 12, जोया 6, साहिल 12, सोहिल 11, छोटू 14, वसीम सहित शिक्षक वीरेन्द्र भी घायल हुए।

जैसे ही आवाज सुनी तो आनन-फानन में लोग वहां पहुंचे और मलबे से निकालकर बच्चों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहां उनका उपचार हुआ। तीन बच्चों का प्राथमिक उपचार करने के बाद डॉक्टरों ने हैलट रिफर कर दिया। वहीं सदस्य जिला पंचायत विश्राम सिंह मटल्लू यादव भी सुबह तत्काल कोचिंग स्थल पर पहुंचे थे और सीएचसी जाकर उन्होंने सभी का हाल जाना।

पानी के तेज बहाव से कटा रोड

लगातार मूसलाधार बारिश से एक के बाद नुकसान की संख्या बढ़ती जा रही है। ग्रामीण इलाकों में तो लोग रहने तक को मोहताज हो गए हैं। कच्चे मकान जहां गिर रहे हैं वही झोपड़ियों में पानी भर रहा है। लोग दूसरे के घरों में आश्रय लेने को मजबूर हैं। वहीं रसूलाबाद क्षेत्र के कहिंजरी- बनीपारा मार्ग पर पुलिया के निकट पानी के तेज बहाव के चलते डामर रोड कट गया। जिससे लोगों को आवागमन में काफी कठिनाई हो रही है। लोग उक्त मार्ग से न निकलकर दूसरे मार्ग से गंतव्य स्थान पहुंच रहे हैं।


पूरी तरीके से बनीपारा-कहिंजरी जाने वाले मार्ग का यातायात ठप हो गया है। चारों तरफ पानी ही पानी नजर आता है मानो रसूलाबाद क्षेत्र पूरा टापू बन गया हो। बारिश से मार्ग खस्ताहाल है तो गली बस्तियों में भारी जलभराव है। लोगों को आवागमन में बहुत दिक्कते हो रही है।

Ashiki

Ashiki

Next Story