Top

लोकगायिका मालिनी अवस्थी को मिला 'पद्म श्री', इन्हें भी मिला सम्मान

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 25 Jan 2016 12:22 PM GMT

लोकगायिका मालिनी अवस्थी को मिला पद्म श्री, इन्हें भी मिला सम्मान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : अपने गीतो से सबको झुमा देने वाली मशहूर लोकगायिका मालिनी अवस्थी को आज पद्म श्री से नवाजा गया। मालिनी ने ठुमरी, दादरा, कजरी और होरी के गीत गाकर देश में नया ​कीर्तिमान स्थापित किया है। उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले से एक मध्यमवर्गीय परिवार से आई मालिनी ने ये पुरस्कार पाकर खुशी जाहिर की है। इसके आलावा पूर्व कैग प्रमुख विनोद राय, बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर, साइना नेहवाल, सनिया मिर्जा और गायक उदित नारायण को पद्म भूषण से नवाजा गया।

पद्म विभूषण पद्म भूषण पद्म श्री
रजनीकांतरॉबर्ट डी ब्लैकवेलमालिनी अवस्थी
धीरूभाई अंबानीउज्जवल निकामउज्जवल निकाम
यामिनी कृष्णामूर्ति प्रियंका चोपड़ाप्रियंका चोपड़ा
गिरिजा देवीअनुपम खेरअजय देवगन
रामेजी रावसायना नेहवाल
श्री श्री रविशंकरसानिया मिर्जा
डॉक्टर विश्वनाथन शांताउदित नारायण
जगमोहनविनोद राय
प्रोफेसर डी नागेश्वर रेड्डी

किसे दिया जाता है ये सम्मान?

तीरंदाज दीपिका कुमारी, सुशील दोषी और एसएस राजमौली को पद्म श्री से सम्मानित किया गया है। अनुपम खेर ने इस सम्मान से नवाजे जाने के बाद खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि ये मेरी जिदंगी की उपलब्धि है। मुझे जब सुबह फोन आया है तो सबसे पहले मुझे अपने पिता याद आए। वहीं वकील उज्जवल निकाम ने भी अपना सम्मान अपने माता-पिता को समर्पित किया ।

कला, साहित्य, पत्रकारिता, खेल, शिक्षा, चिकित्सा, विज्ञान और समाज सेवा आदि के क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले व्यक्तियों को ये सम्मान दिया जाता है। भारत सरकार ने सन् 1954 में इन पद्म पुरस्कारों की शुरुआत की थी। सन 1954 से 2014 तक भारत सरकार कुल 4202 व्यक्तियों को पद्म पुरस्कारों दिए जा चुके हैं। इनमें 294 व्यक्तियों को पद्म विभूषण, 1229 व्यक्तियों को पद्म भूषण और 2679 व्यक्तियों को पद्मश्री पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

क्या है पद्म सम्मान?

* पद्म श्री, पद्म् भूषण और पद्म् विभूषण देश के शिखर सम्मान हैं।

* ये सम्मान मिलने के बाद उस व्यक्ति का रुतबा बढ़ता है।

* सम्मानित व्यक्ति की योग्यता और उपलब्धियों पर सरकार की मुहर भी लग जाती है।

* पद्म पुरस्कारों का यह 60वाँ यानी हीरक जयंती वर्ष है।

Newstrack

Newstrack

Next Story