Top

पत्नी को गिरवी रखकर IPL में खेला 25 लाख का सट्टा, हारने पर हुआ फरार

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 28 May 2016 5:25 AM GMT

पत्नी को गिरवी रखकर IPL में खेला 25 लाख का सट्टा, हारने पर हुआ फरार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

[nextpage title="next" ]

victim विक्टिम

कानपुर: एक सट्टेबाज को IPL का इस कदर का भूत चढ़ा कि उसने पत्नी की गरंटी पर लोगों से उधार लेकर मैच में सट्टा लगाने लगा। अपना सब कुछ बर्बाद कर वह घर से फरार हो गया। वहीं अब कर्ज मांगने वाले उसकी पत्नी से अश्लील बाते कर अपने रुपयों की मांग कर रहे हैं। आखिरकार तंग आकर पत्नी ने अपने ही पति के खिलाफ गोविन्द नगर थाने में तहरीर देकर पुलिस से मदद की गुहार लगाई है।

अगली स्‍लाइड्स में देखिए क्‍या है मामला...

[/nextpage]

[nextpage title="next" ]

accused पीडि़ता का पति रविंद्र लाल घेरे में और शिफत

गोविन्द नगर थाना क्षेत्र के चार ब्लाक में रहने वाला रविन्‍द्र सिंह बैट्री का काम कर के अपने परिवार का पालन पोषण करता था। परिवार में पत्नी जसमीत कौर और सात साल बेटा शिफ़त है। रविंदर की शादी दस साल पहले जसमीत कौर से हुई थी जसमीत कौर फैजाबाद की रहने वाली है।

अगली स्‍लाइड्स में देखिए रविन्‍द्र ने कैसे मांगे पत्‍नी के मायके वालों से पैसे...

[/nextpage]

[nextpage title="next" ]

satta

पत्नी जसमीत कौर ने बताया कि रविन्द्र पिछले कई साल से सट्टा खेल रहा था और अब तो वह सट्टा खिलाने भी लगा था। जसमीत ने बताया कि रविन्द्र ने कहा की मेरा शेयर मार्केट में बहुत बड़ा नुकसान हो गया है तुम अपने मायके से 17 लाख रुपए उधार ले आओ ताकि मै सब का कर्जा भर सकूं। जब इसका विरोध किया तो उसने मारना पीटना शुरू कर दिया और जान से मारने की धमकी देने लगा।

अगली स्‍लाइड्स में देखिए पेट पालने के लिए विक्टिम ने क्‍या किया...

[/nextpage]

[nextpage title="next" ]

house

जब यह बात अपने मायके में बताया तो उन्होंने 17 लाख रुपए का कर्ज भरा, लेकिन इसके बाद भी रविन्द्र का सट्टा खेलना बंद नही हुआ। वह दुसरों से फिर कर्ज लेने लगा जब वह कर्ज लेता तो मुझे आगे कर देता और मेरी गारंटी लगा देता। जब रविन्द्र पर फिर से 17 लाख का कर्ज हो गया तो वह मकान बेचने पर अमादा हो गया। परिवार भुखमरी की तरफ बढ़ने लगा तो मैंने अपने ही घर में बुटिक का काम डाल दिया। जिससे अपने परिवार का खर्च और बच्चे की पढ़ाई में लगाने लगी।

अगली स्‍लाइड्स में देखिए किसने की विक्टिम की मदद...

[/nextpage]

bjp-leader-with-victim बीजेपी नेता अभिजीत सिंह छाबड़ा

[nextpage title="next" ]

जब वसूली करने वाले घर आने लगे तो वह घर से भाग गया,लेकिन वसूली करने वाले मुझसे अश्लील बाते करने लगे। तब मैंने एक बीजेपी नेता अभिजीत सिघ छाबड़ा को पूरी बात बताई तो उन्होंने पुलिस से शिकायत करने की बात कही। अभिजीत सिंह छाबड़ा ने बताया कि रविन्द्र मायके से दोबारा रूपए लाने की जिद कर रहा था। वहीं वसूली करने वाले इससे गन्दी-गन्दी बाते करते थे। कर्ज मांगने वालो में राजू ,मिटू मीट वाला ,नीटू सरदार समेत एक दर्जन से अधिक लोग हैं। उन्होंने बताया कि महिला व उसके बेटे को जान का भी खतरा है l

[/nextpage]

Newstrack

Newstrack

Next Story