Top

मायावती ने कहा- मोदी का खुद को मजदूर नबंर एक कहना जोक आफ द ईयर

By

Published on 2 May 2016 1:57 PM GMT

मायावती ने कहा- मोदी का खुद को मजदूर नबंर एक कहना जोक आफ द ईयर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : बसपा प्रमुख मायावती ने कल 1मई मजदूर दिवस पर पीएम नरेन्द्र मोदी के खुद को देश का मजदूर नंबर एक कहने को साल का सबसे बड़ा मजाक करार दिया है। मायावती ने सोमवार को जारी बयान में यूपी की सपा और केन्द्र की मोदी सरकार पर जम कर निशाना साधा।

उन्होंनें कहा कि अखिलेश सरकार मजदूरों के साथ मजाक कर रही है। आसमान छूती महंगाई में मज़दूरों की दैनिक न्यूनतम मज़दूरी नहीं बढ़ाना उनके साथ घोर अन्याय है जबकि बसपा के कार्यकाल 2007 में सरकार बनते ही मजदूरों की दैनिक मज़दूरी, जो मात्र 58 रूपये थी, को बढ़ाकर पहले 100 रूपये और फिर 120 रूपये कर दिया था।

मायावती ने और क्या कहा

-मोदी ने मजदूरों के लिए मीठी-मीठी बनावटी और लुभावनी बातें की हैं।

-उनकी कथनी और करनी में अंतर है।

-लोग अब उनकी बात पर विश्वास नहीं करते हैं।

-कांग्रेस के नेता भी खुद को जनता का सेवक कहते थे।

-देश जानता है कि कांग्रेस ने जनता को जमकर लूटा है।

-कांग्रेस और बीजेपी दोनों पूंजीपतियों के प्रतिनिधि हैं।

-दोनों पार्टी धन्ना सेठों की मदद करने वाली हैं।

-दोनों पार्टी के लोग पैसे वालों के बल पर चुनाव जीत कर आते हैं।

-अखिलेश का दस रुपए में खाना देने की घोषणा सस्ती लोकप्रियता है।

Next Story