मेरठ वेतन न मिलने से नाराज होमगार्ड ने किया पेट्रोल छिड़ककर आत्मदाह का प्रयास

यूपी के मेरठ शहर में कमिश्नरी चौराहे पर शुक्रवार को होमगार्ड ने अपने ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आत्मदाह करने का प्रयास किया। चौराहे पर मौजूद पीएसी के पुलिस, जवानों ने किसी तरह होमगार्ड से पेट्रोल की बोतल छीनकर उसका आत्महत्या के प्रयास को विफल किया।

मेरठ वेतन न मिलने से नाराज होमगार्ड ने किया पेट्रोल छिड़ककर आत्मदाह का प्रयास

मेरठ: यूपी के मेरठ शहर में कमिश्नरी चौराहे पर शुक्रवार को होमगार्ड ने अपने ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आत्मदाह करने का प्रयास किया। चौराहे पर मौजूद पीएसी के पुलिस, जवानों ने किसी तरह होमगार्ड से पेट्रोल की बोतल छीनकर उसका आत्महत्या के प्रयास को विफल किया।

यह भी पढ़ें…..जानें क्यों, ऑर्डनेन्स फैक्ट्री के सामने ये दे रहे हैं आत्मदाह की धमकी

एसपी सिटी रणविजय सिंह ने बताया कि होमगार्ड का नाम मुकेश कुमार है। मूल रूप से बुलंदशहर के गांव सैदपुर निवासी मुकेश कुमार वर्तमान में यूपी-100 गाड़ी पर तैनात है। होमगार्ड को 2 माह से वेतन न मिलने के कारण वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। एसपी सिटी ने होमगार्ड को सिविल लाइन थाने पुलिस को सौंप दिया। जिसके बाद होमगार्ड की शिकायत जिला होमगार्ड कमांडेंट से की गई।

यह भी पढ़ें…..यूपी विधानसभा के सामने आत्मदाह की कोशिश, तस्वीरों में देखिए क्या हुआ

करीब 19 सालों से होमगार्ड में नौकरी कर रहे मुकेश कुमार ने बताया कि पिछले दो माह से उसको वेतन नहीं मिल पाया है। जो करीब 39000 रुपये बनते हैं। वेतन ना मिलने की वजह से घर में आर्थिक तंगी हो गई है। रसोई का सामान और बच्चों की फीस भी नहीं जमा हो पा रही है। पत्नी और बच्चों के ताने सुनने को मिल रहे थे। कई बार जिला कमांडेंट और अन्य अफसरों से भी वेतन के लिए प्रार्थना पत्र दे चुका है। मगर कुछ नहीं हुआ। जिसके बाद आत्मदाह करने के विचार से वर्दी में कमिश्नरी चौराहे पर पहुंचा और विरोध जताते हुए अपने पर पेट्रोल छिड़क लिया।