×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

Meerut News: एनडीए में जाने के बाद रालोद में इस्तीफें का दौर जारी, अब राष्ट्रीय प्रवक्ता रोहित जाखड़ ने सभी पदों से दिया इस्तीफा

Meerut News: अपने इस्तीफे में रालोद नेता ने लिखा कि 'भारत को तोड़ने वाली और बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान को बर्बाद करने की मंशा रखने वाले भाजपा और आरएसएस का साथ नहीं दे सकता।

Sushil Kumar
Published on: 3 May 2024 7:53 AM GMT
RLD national spokesperson Rohit Jakhar
X

RLD national spokesperson Rohit Jakhar   (फोटो: सोशल मीडिया )

Meerut News: रालोद के राष्ट्रीय प्रवक्ता रोहित जाखड़ ने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। रोहित जाखड़ राष्ट्रीय जाट महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष भी है। रोहित के इस्तीफे से रालोद को पश्चिम में बड़ा झटका माना जा रहा है। कहा जा रहा है कि आने वाले दिनो में कुछ और रालोद नेता पार्टी छोड़ सकते हैं।

रालोद सुप्रीमो चौधरी जयंत सिंह को अपना इस्तीफा भेजने के बाद रोहित जाखड़ ने अपने इस्तीफे का कारण बृजभूषण शरण सिंह के बेटे को कैसरगंज से लोकसभा का टिकट देना बताया है। उन्होंने कहा कि पश्चिम में दो चरण का चुनाव संपन्न होने के बाद जिस तरह से भाजपा ने बेटियों के शोषण के आरोपी बृजभूषण शरण सिंह के बेटे को प्रत्याशी बनाया है। वो देश की बेटियो का अपमान है। उन्होंने कहा कि बेटियों की अस्मिता से समझौता मंजूर नहीं है। रालोद नेता ने आगे कहा कि पिता के सामने बेटे की तरक़्क़ी किस तरह की कार्यवाही है। ये तो एक पिता के लिए ख़ुशी का पल है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पद पर रहकर इसका विरोध संभव नहीं है, सामाजिक स्तर पर इसका विरोध जारी रहेगा।

पार्टी के सभी स्वरूप से त्यागपत्र देने को मजबूर

अपने इस्तीफे में रालोद नेता ने लिखा कि 'भारत को तोड़ने वाली और बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान को बर्बाद करने की मंशा रखने वाले भाजपा और आरएसएस का साथ नहीं दे सकता। मुझे नरेंद्र मोदी में श्रद्धेय चौधरी चरण सिंह नहीं बल्कि एक क्रूर तानाशाह नजर आता है'। हमारी राष्ट्रीय लोकदल पार्टी में उपयोगिता शेष ना रहने के कारण पार्टी के सभी स्वरूप से त्यागपत्र देने का कष्टदायक फ़ैसला लेने को मजबूर हूं।

बता दें कि राष्ट्रीय लोक दल के एनडीए का हिस्सा बनने के बाद रालोद के बड़े नेता शाहिद सिद्दीकी भी पार्टी के उपाध्यक्ष पद से यह कहते हुए इस्तीफा दे दिया था कि मैं खामोशी से देश के लोकतांत्रिक ढांचे को समाप्त होते नहीं देख सकता।

हाल ही में रालोद के राष्ट्रीय कैंपेन प्रभारी प्रशांत कनौजिया ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था।

Monika

Monika

Content Writer

पत्रकारिता के क्षेत्र में मुझे 4 सालों का अनुभव हैं. जिसमें मैंने मनोरंजन, लाइफस्टाइल से लेकर नेशनल और इंटरनेशनल ख़बरें लिखी. साथ ही साथ वायस ओवर का भी काम किया. मैंने बीए जर्नलिज्म के बाद MJMC किया है

Next Story