×

पुलवामा हमला: शहीदों के लिए लोगों ने की दुआ, आतंकियों का पुतला फूंककर जताया विरोध

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में अब तक 44 जवानों के शहीद होने की पुष्टि हो चुकी है। प्रदेश भर में जगह-जगह शहीदों को श्रद्धांजलि दी जा रही है। इसी कड़ी में यूपी के जनपद हापुड़ में भी शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। उसके बाद व्यापरियों की तरफ से इलाके के अंदर  मार्च निकलकर  भारत माता की जय के नारे लगाये गये। 

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 15 Feb 2019 12:32 PM GMT

पुलवामा हमला: शहीदों के लिए लोगों ने की दुआ, आतंकियों का पुतला फूंककर जताया विरोध
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में अब तक 44 जवानों के शहीद होने की पुष्टि हो चुकी है। प्रदेश भर में जगह-जगह शहीदों को श्रद्धांजलि दी जा रही है। इसी कड़ी में यूपी के जनपद हापुड़ में भी शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। उसके बाद व्यापरियों की तरफ से इलाके के अंदर मार्च निकलकर भारत माता की जय के नारे लगाये गये।

वहीं बीजेपी नेता विनीत दीवान ने कहा कि वह आतंकी सरगना अजहर मसूद का सिर लाने वाले को 1 करोड़ रुपये देने की घोषणा करते है। उन्होंने जवानों पर हुए हमले को लेकर कड़ी निंदा की। बीजेपी जिला अध्यक्ष ने कहा कि भारत को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए और हम सब को एकजुट होना चाहिए जो उनके केंद्र हैं उन्हें नष्ट करना चाहिए।

नमाज खत्म होने के बाद पकिस्तान का फूंका पुतला

इटावा में मुस्लिम समाज के लोगों ने शाही मस्जिद में जुमे की नमाज़ अदा करने के बाद के आतंकी मसूद अजहर का पुतला फूंका और प्रदर्शन किया। उन्होंने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए और कहा कि आतंकवादियों ने सैनिकों पर हमला करके कायरता का जो सुबूत पेश किया है। हमारा समाज इस हमले की कड़े शब्दों में निंदा करता है और भारत सरकार से मांग करता है कि देश के अमनचैन को तबाह करने वाले आतंकवादियों को मुहतोड़ जवाब दिया जाये।

युवाओ ने मोदी सरकार से अपील करते हुए कहा कि अगर वो पकिस्तान को उनकी भाषा में जवाब देंगे तो मुस्लिम समुदाय सरकार का साथ देगा। भारत अमनचैन का मुल्क है, देश के अमनचैन को बिगाड़ने वालों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

वहीं राजधानी लखनऊ में शहीद जवानों को श्रद्धासुमन अर्पित करने के लिए सेंट्रल बार में एक शोक सभा का आयोजन किया गया। यहीं नहींसेंट्रल बार एसोसिएशन के समस्त अधिवक्तागण ने शहीदों के सम्मान में सड़क पर आकर शान्ति मार्च भी निकाला। जो शहीद स्मारक होते हुए गवर्नर हाउस पहुंचा। जहां पाकिस्तान का पुतला फूँका गया है। देश के शहीदों के सम्मान में समस्त अधिवक्ता गण इस घटना के विरोध में भारत सरकार से मांग की है की इस घटना का मुँहतोड़ जवाब दिया जाना चाहिए।

उधर जौनपुर में आतंकी हमले में शहीद हुए देश के बहादुर सैनिको श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए घटना के विरोध में जनपद के पत्रकारों सहित तमाम बुद्धिजीवियों ने कायरता पूर्ण आतंकी हमले की कड़े शब्दों में निन्दा की। साथ ही जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर मांग किया है कि सरकार सैनिकों के शहादत का बदला लेने की दिशा आतंकियों को चिन्हित कर कठोर कार्रवाई करे।

ताकि उन्हें घटना को अंजाम देने की सजा मिल सके। लोगों की मांग है कि शहीद जवानों के परिजन को कम से कम 50 लाख रूपए की सहायता राशि प्रदान किया जाये।

मुरादाबाद के बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष वारिश अली ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा की में इस घटना की निंदा करता हूँ यह घटना बहुत कायराना है मसूद अजहर आतंकी को अंतर्राष्ट्रीय आतंकबादी घोषित करना चाहिए और जो इस आतंकी सिर काट के लाएगा उसको में एक करोड़ का इनाम दुगा

ये भी पढ़ें...पुलवामा हमला: भारत ने पाकिस्तान के उच्चायुक्त को तलब कर जाहिर किया गुस्सा

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story