×

गठबंधन की काट खोजने लखनऊ पहुंचे जेपी नड्डा, खींचेंगे भाजपा का चुनावी खाका

जेपी नड्डा, गोवर्धन झाड़पिया, नरोत्तम मिश्रा और दुष्यंत गौतम बीजेपी की चुनाव तैयारियों को धार देने के लिए लखनऊ में हैं। वह बीजेपी के प्रदेश पदाधिकारियों संग बैठक कर गठबंधन को देखते हुए नई रणनीति की तैयार करेंगे।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 16 Jan 2019 8:53 AM GMT

गठबंधन की काट खोजने लखनऊ पहुंचे जेपी नड्डा, खींचेंगे भाजपा का चुनावी खाका
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: यूपी में जैसे जैसे लोकसभा चुनाव करीब आते जा रहे हैं, वैसे वैसे सियासी पारा गर्माता जा रहा है। ऐसे में सपा और बसपा के बीच हुए गठबंधन ने अन्य पार्टियों में खलबली मचा दी है।

इसी गठबंधन की काट खोजने और मिशन 2019 का एजेंडा तय करने यूपी के चुनाव प्रभारी बने जेपी नड्डा बुधवार को लखनऊ पहुंचे। जेपी नड्डा, गोवर्धन झाड़पिया, नरोत्तम मिश्रा और दुष्यंत गौतम बीजेपी की चुनाव तैयारियों को धार देने के लिए लखनऊ में हैं। वह बीजेपी के प्रदेश पदाधिकारियों संग बैठक कर गठबंधन को देखते हुए नई रणनीति की तैयार करेंगे।

ये भी पढ़ें— शशि थरूर का पीएम मोदी पर आरोप, कहा- अपने साथ ‘पद्मनाभस्वामी मंदिर’ में प्रवेश से रोका

बता दें लोकसभा चुनाव का प्रभारी बनाए जाने के बाद पहली बार यह सभी लखनऊ में होंगे। इससे पूर्व यूपी के लिए बनाए गए यह सभी प्रभारी दिल्ली में हुए राष्ट्रीय अधिवेशन में मिले थे। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने गठबंधन की काट तलाशना शुरू भी कर दिया है। इसे लेकर ही प्रदेश के पदाधिकारियों और नेताओं के साथ इनकी मंथन बैठक होगी। बैठक में इस बात पर चर्चा होगी कि किस तरह से सपा और बसपा की जातीय सियासत को चुनौती दी जाए।

ये भी पढ़ें— बोर्ड परीक्षा से पहले छात्रों से बात करेंगे पीएम मोदी, ऐसे करें आवेदन

दरअसल, सपा और बसपा के गठबंधन के मद्देनजर भाजपा के सामने लोकसभा चुनाव एक बड़ी चुनौती है। उत्तर प्रदेश चूंकि न सिर्फ देश का सबसे बड़ा प्रदेश है बल्कि लोकसभा की सर्वाधिक 80 सीटें होने के कारण भी बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए भी यूपी से भाजपा को ज्यादा से ज्यादा सीटें हासिल करना चुनौती है।

ये भी पढ़ें— ब्रेग्जिट समझौते पर ब्रिटिश पीएम टेरीजा की करारी हार, देना पड़ सकता है इस्तीफा

केन्द्रीय मंत्री एवं यूपी के चुनाव प्रभारी जेपी नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार का संकल्प था गरीब, वंचित तबको के लिए समर्पित रहेगी। लगभग साढ़े चार साल में उसका असर दिखा है। छह राज्यों से बढ़कर भाजपा 16 राज्यों में सरकार में है। 18000 गावों को बिजली देना,4लाख करोड़ रूपये डीबीटी से दिया,30करोड़ आबादी को विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित, आयुष्मान योजना का लाभ 10करोड़ से ज्यादा परिवार जुड़ चुके हैं। भाजपा देश-प्रदेश को आगे बढ़ाने में लगी है। मोदीजी को भारत की और यूपी की जनता फिर मौका देगी। मायावती-अखिलेश ने जनता के लिए कुछ नहीं किया।वह भाजपा के खिलाफ दुष्प्रचार करते हैं। नड्डा ने दावा किया कि भाजपा इस बार यूपी से 74 सीटें इस बार जीतेगी।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story