Top

जब्त हुआ था माल, व्यापारी ने राज्यमंत्री के बेटे संग मिल अफसर को धुना

By

Published on 18 May 2016 5:16 PM GMT

जब्त हुआ था माल, व्यापारी ने राज्यमंत्री के बेटे संग मिल अफसर को धुना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: राज्यमंत्री के बेटे और अपने 8-10 साथियों संग मिलकर एक व्यापारी ने बुधवार को सेल टैक्स ऑफिस में कमर्शियल टैक्स ऑफिसर की जमकर धुनाई कर दी। पुलिस ने मुख्य आरोपी व्यापारी संजय जायसवाल को गिरफ्तार कर लिया।

क्या है मामला ?

-मामला गोरखपुर के खोराबार थाना क्षेत्र के तारामंडल के पास सेल टैक्स ऑफिस का है।

-जहां बुधवार सुबह करीब 11:00 बजे 8-10 की संख्या में पहुंचे लोगों ने कमर्शियल टैक्स ऑफिसर अनिल शर्मा की जमकर पिटाई कर दी।

-जिससे अनिल शर्मा को कई जगह पर चोटें आईं हैं।

-मारपीट के बाद अन्य आरोपी वहां से फरार हो गए।

-असिस्टेंट कमिश्नर आशीष कुमार मिश्रा ने संजय जायसवाल नाम के मुख्य आरोपी को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया है।

मारपीट के बाद प्रदर्शन करते कर्मचारी मारपीट के बाद प्रदर्शन करते कर्मचारी

जब्त किया था माल

-संजय जायसवाल की बलदेव प्लाजा में साक्षी इंटरप्राइजेस के नाम से मोबाइल की शॉप है।

-रेलवे से उनका माल गोरखपुर आया था।

-सेल टैक्स ऑफिस के अधिकारियों ने औचक निरीक्षण कर अवैध तरीके से मंगाए गए माल को जब्त कर लिया।

माल जब्‍त होने से गुस्‍से में था व्‍यापारी

-बताया जा रहा है कि इसी माल के जब्त होने के कारण संजय जायसवाल गुस्से में था।

-संजय बुधवार को राज्यमंत्री राधेश्याम सिंह के बेटे दिग्विजय सिंह उर्फ़ लक्ष्मण सिंह और अपने 8-10 साथियों के साथ सेल टैक्स ऑफिस पहुंचा।

-जहां पर उसने सामने बैठे कमर्शियल टैक्स ऑफिसर अनिल शर्मा से पूछा कि उसका माल किसने जब्त किया है।

-अनिल शर्मा ने जवाब दिया कि वह अभी-अभी आए हैं और उनको इस बारे में जानकारी नहीं है।

- इस बात पर संजय जायसवाल और उसके साथियों को इतना गुस्सा आया कि वह हमलावर हो गए।

मारपीट में शामिल था मंत्री का बेटा (लाल घेरे में ) मारपीट में शामिल था राज्यमंत्री राधेश्याम सिंह का बेटा दिग्विजय सिंह (लाल घेरे में )

व्‍यापारी संजय जायसवाल ने लगाए आरोप

-मारपीट के आरोप में पकड़े गए व्यापारी संजय जायसवाल का आरोप है कि उनका माल इसी तरह से हमेशा आता है।

-वे सेल टैक्स अधिकारियों को हर महीने 50-60 हजार रुपए देते हैं।

-माल पकड़े जाने पर वह यह पूछने पहुंचा था कि उसका माल किसने और क्यों पकड़ा है।

यह भी पढ़ें ... सपा नेताओं की दिखी गुंडई, पुलिस वालों पर हमला करने से भी नहीं चूक रहे

-जब वह उन्हें हर माह मोटी रकम देते हैं तो माल क्यों जब्त किया गया।

- व्यापारी संजय ने आरोप लगाते हुए कहा कि अनिल कुमार शर्मा उनसे 60 हजार रुपए अतिरिक्त मांग रहे थे।

-इस बात का विरोध करने पर संजय के साथियों ने अनिल की पिटाई कर दी और गले से चेन और 50 हजार रुपए लूट लिए।

क्या कहना है पुलिस का

-इस घटना के संबंध में एसओ खोराबार राम आशीष यादव ने बताया कि वाणिज्यकर अधिकारी अनिल कुमार शर्मा की तहरीर पर कार्यालय में घुसकर मारपीट करने, सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, कागजात के साथ छेड़छाड़ करने के मामले में मुख्य आरोपी संजय जायसवाल सहित 8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। प्रदेश सरकार के एक मंत्री के बेटे के शामिल होने के सवाल उन्होंने कहा कि इसकी जांच की जा रही है।

क्या कहते हैं अधिकारी

-उपायुक्त प्रशासन वाणिज्य कर अमित कुमार पाठक ने कहा कि संजय और उसके साथियों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है।

-व्यापारी संजय जायसवाल को पकड़कर पुलिस को सौंपा गया है इसलिए वह अनर्गल आरोप अधिकारियों पर लगा रहा है।

Next Story