Top

QED के सपा में विलय होते ही मुख्तार को मिला ईनाम, लखनऊ जेल में शिफ्ट

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 22 Jun 2016 5:31 AM GMT

QED के सपा में विलय होते ही मुख्तार को मिला ईनाम, लखनऊ जेल में शिफ्ट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः कौमी एकता दल के सपा में विलय के साथ मुख्‍तार अंसारी को आगरा सेंट्रल जेल से लखनऊ जेल में ट्रांंसफर कर दिया गया है। मुख्‍तार लंबे समय से लखनऊ जेल में शिफ्ट होना चाहते थे। कौमी एकता दल केे सपा में विलय के बाद मुख्‍तार का लखनऊ जेल में शिफ्ट होना ईनाम के रूप में देखा जा रहा है, हांलाकि जेल प्रशासन ने मुख्‍तार अंसारी के शिफ्टिंग के पीछे उनके स्‍वास्‍थ का हवाला दिया है। मुख्‍तार पिछले 4 सालों से आगरा सेंट्रल जेल में बंद हैं। यहीं से उन्‍होंने चुनाव भी लड़ा था।

यह भी पढ़ें... जानिए कौमी एकता दल के सपा में विलय को लेकर बसपा में क्यों है बेचैनी ?

अफजाल अंसारी ने की थी घोषणा

-मुख्तार के भाई और कौमी एकता दल के अध्यक्ष अफजाल अंसारी ने इस विलय की घोषणा की थी।

-वहीं कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव के साथ अफजाल ने प्रेस कांफ्रेस कर आगामी यूपी चुनाव में मदद की बात कही थी।

-अफजाल अंसारी ने कहा था कि अब वह सपा के लिए काम करेंगे।

-अफजाल अंसारी ने कहा था कि 1994 से सपा के झंडा तले हमने काम किया।

Newstrack

Newstrack

Next Story