×

शामली: छेड़छाड़ मामले में दो संप्रदायों में जमकर मारपीट, दूसरी ओर रंजिश के चलते जानलेवा हमला

By

Published on 20 Feb 2017 4:41 AM GMT

शामली: छेड़छाड़ मामले में दो संप्रदायों में जमकर मारपीट, दूसरी ओर रंजिश के चलते जानलेवा हमला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

shamli

शामली: जनपद शामली के कैराना कस्बे में युवती के साथ छेड़छाड़ को लेकर दो पक्ष आमने-सामने आ गए और जमकर मारपीट हुई झगड़ा इतना ज्यादा बढ़ गया कि लाठी-डंडे और धारदार हथियार तक चल गए इस मारपीट में दोनों पक्षों के लगभग डेढ़ दर्जन लोग घायल हो गए घटना की सूचना पर भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और घायलों को कैराना के अस्पताल में भर्ती कराया। जबकि एक युवक की हालात गंभीर होने के कारण मुजफ्फरनगर रेफर कर दिया गया है मामला दो संप्रदायों से जुड़ा होने के कारण पुलिस सतर्क नजर आ रही है।

यह है पूरा मामला

-मामला शामली जनपद के कैराना कोतवाली क्षेत्र के गांव पावटी कला का है, जहां पर छेड़छाड़ को लेकर बवाल हो गया। एक पक्ष का आरोप है कि समीम की पत्नी खेत से पशुओं का चारा लेकर घर लौट रही थी

-रास्ते में गांव के ही ईश्वर की भतीजी की बारात आई हुई थी और घोड़ी चढ़त के दौरान बारात में कुछ युवक शराब पीकर डी.जे. पर नाच रहे थे।

-जैसे ही समीम की पत्नी ने उधर से गुजरी, तो शराब पीकर नाच रहे युवकों ने छेड़छाड़ की।

-जब समीम इन्हें समझाने गया, तो इन लोगों ने मारपीट शुरु कर दी और देखते ही देखते मामला बढ़ता चला गया।

-धारदार हथियार व लाठी-डंडे निकल आए। वहीं ईश्वर पक्ष का भी यही कहना है कि बारात में आई युवती के साथ छेड़छाड़ करने के कारण ये झगड़ा हुआ है।

-झगड़े में जहां ईश्वर पक्ष के आठ, तो समीम पक्ष के नो लोग घायल हुए हैं।

आगे की स्लाइड में देखिए कैसे रंजिश के चलते किया गया जानलेवा हमला

-वहीं शामली के थाना कैराना में मोहल्ला छाड़ियांन में पुरानी रंजिश के चलते दबंगों ने युवक पर जानलेवा हमला बोल दिया।

-मामला थाना कैराना के मोहल्ला छाड़ियांन का है, जहां पर कब्रिस्तान को लेकर पुरानी रंजिश के चलते दबंगों ने असगर नाम के युवक को उसके घर से बहला-फुसलाकर बुलाया

-उसपर जान से मारने की नीयत से हमला कर दिया, जिसमें असगर बुरी तरह से घायल हो गया

-शोर-शराबा होने पर हमलावर मौका देखकर फरार हो गए। असगर के परिवार वालों ने उसे निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया, जहां पर उसकी हालत को गंभीर देखते हुए उसको ज़िला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया

-असगर के बेटे बिलाल ने बताया कि कुछ दबंग कब्रिस्तान की जमीन को कब्जाना चाहते थे। लेकिन असगर ने सभी बिरादरियों के साथ मिलकर दबंगों को वहां से भगा दिया

-तब से उन्हें जान से मारने की धमकियां मिल रही थी।

क्या है सीओ भूषण का कहना

कैराना के सीओ भूषण वर्मा ने बताया है कि दो पक्षों में मारपीट हो गई थी जिसकी कोई भी तहरीर हमारे पास अभी तक नहीं आई है तहरीर मिलते ही कार्रवाई की जाएगी हमने और ज्यादा फ़ोर्स को भी बुला लिया है और दबंगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Next Story