Top

मुख्तार अंसारी के साथ हो सकता है षड्यंत्र, भाई अफजाल को सता रहा डर

मुख्तार अंसारी के बड़े भाई अफजाल अंसारी ने मुख्तार को जेल में रखे जाने के दौरान षड्यंत्र रचे जाने की संभावना जताई है।

Ashiki Patel

Ashiki PatelPublished By Ashiki PatelAnoop HemkarReport By Anoop Hemkar

Published on 5 April 2021 3:27 PM GMT

मुख्तार अंसारी के साथ हो सकता है षड्यंत्र, भाई अफजाल को सता रहा डर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बलिया: बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बड़े भाई बसपा सांसद अफजाल अंसारी ने आज मुख्तार अंसारी को जेल में रखे जाने के दौरान कोई षड्यंत्र रचे जाने की संभावना जताई है । उन्होंने मुख्तार अंसारी के सुरक्षा के मसले पर न्यायपालिका की शरण में जाने की घोषणा की है।

भाई अफजाल ने जताई आशंका

गाजीपुर से सांसद अंसारी ने आज न्यूस्ट्रैक से बातचीत करते हुए कहा कि अंसारी परिवार को मुख्तार अंसारी की सुरक्षा को लेकर मीडिया रपट व भाजपा नेताओं के बयान के कारण आशंका है । उन्होंने इसके साथ ही कहा कि अंसारी परिवार भयग्रस्त नही है । उन्होंने इसके साथ ही जोड़ा कि देश में कानून का शासन है , इसलिए उन्हें विश्वास है कि मुख्तार अंसारी के साथ कुछ नही होगा ।

न्यायपालिका पर भरोषा

उन्होंने कहा कि मुख्तार अंसारी को पंजाब से लाकर उत्तर प्रदेश की जेल में रखे जाने पर उसके साथ कोई षड्यंत्र रचा जा सकता है । उन्होंने मुख्तार अंसारी के सुरक्षा के मसले पर न्यायपालिका की शरण में जाने की घोषणा की है । उन्होंने कहा ' जब राज्य सरकार द्वारा ही सुरक्षा पर संकट उत्पन्न किया जा रहा हो तो न्यायपालिका की शरण में जाने के सिवाय कोई अन्य विकल्प नही बचता । ' राहत प्राप्त करने के लिए उनका प्रयास होगा । आखिरकार राहत न्यायपालिका से ही तो मिलता है । उन्होंने कहा कि उन्हें मौत पर यकीन है ।

एक दिन सभी की मृत्यु होनी है । जब मौत का दिन निश्चित होगा तो मौत का आलिंगन करना ही होगा और निश्चित नही होगा तो कोई मौत नही दे सकता । उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय को मीडिया रपट व भाजपा नेताओं के बयानबाजी को देखते हुए मुख्तार अंसारी के सुरक्षा मसले का स्वयं संज्ञान लेना चाहिए । उन्होंने मुख्तार अंसारी को लोकप्रिय नेता करार देते हुए कहा कि अंसारी परिवार से जुड़े नेताओं खासकर मुख्तार अंसारी के हिन्दू व मुस्लिम के गरीब दीवाने हैं । वह मुख्तार अंसारी को मसीहा मानते हैं ।

बहुसंख्यक समुदाय ने अंसारी परिवार के पौधे को लगाया है तथा खाद व पानी दिया है । यही वजह है कि वह , मुख्तार अंसारी व उनके भाई दस फीसदी मुस्लिम आबादी वाले इलाकों से विधायक व सांसद निर्वाचित हो रहे हैं । मुख्तार अंसारी भी मऊ से लगातार पांचवीं बार विधायक हैं । भाजपा के दिग्गज नेता डॉ मुरली मनोहर जोशी से वाराणसी लोकसभा सीट पर मुख्तार अंसारी कम मतों के अंतर से ही पराजित हुए थे । उन्होंने कहा कि उन्हें देश की स्वतंत्र न्यायपालिका पर गर्व है । देश में अभी न्याय जिंदा है । उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि उन्हें न्यायपालिका से इंसाफ मिलेगा तथा मुख्तार अंसारी सभी मुकदमे में निर्दोष साबित होगा ।

बसपा सांसद अंसारी ने मुख्तार अंसारी पर मुस्लिम देशों से फंडिंग के आरोप को लेकर जांच की चुनौती दी है । संसदीय कार्य राज्य मंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल के मुख्तार अंसारी के मुस्लिम के रक्षक के रूप में पेश कर मुस्लिम देशों से फंडिंग के आरोप पर उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र व राज्य में सरकार है । सभी जांच एजेंसी सी बी आई , आई बी , ई डी आदि उसके पास है । वह इस आरोप की जांच करा सकती है ।

Ashiki

Ashiki

Next Story