Top

मुलायम बोले- ऐसा कोई थाना नहीं जहां 3 से 4 मुस्लिम पुलिस वाले न हों

By

Published on 13 May 2016 2:52 PM GMT

मुलायम बोले- ऐसा कोई थाना नहीं जहां 3 से 4 मुस्लिम पुलिस वाले न हों
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सपा मुखिया मुलायम सिंह ने कहा कि आजादी के बाद ​मुसलमानों की जितनी उपेक्षा हो सकती थी, सरकारों ने किया। पर सपा सरकार में यूपी में ऐसा कोई थाना नहीं है, जहां 3 से 4 मुसलमान पुलिस वाले न हो।

माइनॉरिटी ने सपा पर लगातार विश्वास किया है। यह इतने दिनों तक किसी भी दल के साथ नहीं रहे। इसको लेकर दूसरे दलों के लोगों ने भी हमारी तारीफ की है। यादव सपा मुख्यालय में शुक्रवार को बेनी प्रसाद वर्मा के पार्टी में शामिल होने के मौके पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

सपा ​अब दिल्ली के लिए लड़ाई लड़ेगी

सपा मुखिया ने कहा कि सपा अब सिर्फ लखनऊ के लिए नहीं बल्कि दिल्ली के लिए भी लड़ाई लड़ेगी। बेनी के सपा में आने के बाद एक बार फिर हमारी पार्टी ज्यों की त्यों खड़ी हो गई है। इसका जनता के बीच बहुत बड़ा संदेश जाएगा। सपा सरकार ने अपने घोषणा पत्र में जो वादे किए थे। उन्हें ढ़ाई वर्षों में ही पूरा कर दिया। अब नए काम हो रहे हैं।

मेट्रो से सहमत नहीं थे मुलायम

मुलायम ने अखिलेश सरकार के कामों का जिक्र करते हुए कहा कि मेट्रो वाला नया काम अच्छा है, लेकिन मैं इससे सहमत नहीं था। इनसे (अखिलेश यादव) मैंने कहा कि जल्दी करो, चुनाव के पहले इसका उद्घाटन कराओ। उन्होंने कहा कि लोकसभा में मैंने कहा कि सबसे अच्छा काम यूपी सरकार कर रही है। एक भी सांसद ने हमारा विरोध नहीं किया।

mulayam34235

अपने-अपने सूबे के अलग-अलग हालात हैं

बिहार के सीएम नीतीश कुमार से महागठबंधन के सवाल पर मुलायम ने कहा कि हमारी तरफ से सब कुछ हो चुका था। उन्होंने हमें छोड़ दिया। जब महागठबंधन के अध्यक्ष बने थे तो लालू जी ने हमारा नाम पेश किया था। नीतीश ने कहा था कि चुनाव के बाद एक पार्टी बना लेंगे। इसी बीच आजम खान ने कहा कि अपने-अपने सूबे के अलग-अलग हालात होते हैं तो मुलायम ने भी यही बात दोहरा दी।

'जो बातें बीत गईं, उन्हें दोहराया नहीं जाता'

बेनी प्रसाद वर्मा के सपा मुखिया मुलायम सिंह के खिलाफ दिए गए बयानों के बारे में पूछे जाने पर बेनी ने कहा, 'जो बातें बीत गईं, उन्हें दोहराया नहीं जाता। राजनीति में जब नया अध्याय शुरू होता है तो पुरानी बातों को भूला जाता है।'

मंत्री बनने नहीं गए थे, इत्तेफाक से हाथ लग गया

बेनी ने कहा कि हम और नेताजी एक साथ थे। कांग्रेस में मंत्री बनने नहीं गए थे। इत्तेफाक से हाथ लग गया। मुलायम को अपना भाई बताते हुए बेनी ने कहा कि भाई-भाई में लड़ाई नहीं होती। घर में लड़ाई भी होगी, सुलह भी होगी।

Next Story