Top

इटावा में छलका मुलायम का दर्द, बोले- लोग मुझे कहते थे डकैतों का मसीहा

Admin

AdminBy Admin

Published on 30 April 2016 3:04 PM GMT

इटावा में छलका मुलायम का दर्द, बोले- लोग मुझे कहते थे डकैतों का मसीहा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इटावा: उत्तर प्रदेश ग्रामीण आयुर्विज्ञान एवं अनुसंधान संस्थान के सेंट्रल मेडिसन सप्लाई डिपो (CMSD) का उद्घाटन करने शनिवार को सैफई पहुंचे सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह यादव ने रिम्स संस्थान के बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि जवाहर लाल नेहरू की मौत के बाद मेरी जितनी आलोचना हुई है उतनी आज तक किसी नेता की नही हुई होगी।

उन्होंने कहा कि लोग मुझे डकैतों का मसीहा कहते थे। छविराम डकैत था और फूलनदेवी भी डकैत थी। लोग इटावा को डकैतों का किला कहते थे, लेकिन इटावा जिले में एक भी डकैत नहीं हुआ है। विपक्ष हमेशा आरोप लगाता है कि हम डकैतो को घर पर रोकते हैं।

mulayam-singh

जवाहर लाल नेहरू की मौत सदमे से हुई

-सपा सुप्रीमों ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू को कोई बीमारी नही थी।

-उनकी मौत सदमे से हुई थी।

-चीन ने साल 1962 में भारत पर हमला कर दिया था।

-उस समय हमारी सेना के पास कारतूस नही थे। फिर भी हमारी सेना ने चीन की सेना को मुंह तोड़ जवाब दिया।

mulayam-singh-in-saifai

Admin

Admin

Next Story