×

मुंबई हुई ट्वेंटी फोर सेवेन

Mayank Sharma

Mayank SharmaBy Mayank Sharma

Published on 24 Jan 2020 2:11 PM GMT

मुंबई हुई ट्वेंटी फोर सेवेन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मुंबई। मुंबई को "ट्वेंटी फोर सेवेन" चलायमान रखने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने हरी झंडी दे दी है। 27 जनवरी से गैर आवासीय क्षेत्रों में स्थित मॉल, मिल परिसर की दुकानों, भोजनालयों एवं थिएटरों को 24 घण्टे खुला रखा जा सकता है। भारतीय जनता पार्टी ने इस निर्णय का काफी विरोध किया है और इस निर्णय के दुष्परिणामों के प्रति सरकार को चेताया है।

यह निर्णय महाराष्ट्र के पर्यटन एवं पर्यावरण मंत्री, आदित्य ठाकरे द्वारा देखा गया एक बहुत दिनों पुराना स्वप्न है। वे बहुत दिनों से इसके समर्थन में बात करते चले आ रहे थे और अब जाकर उन्हें इसे क्रियान्वयन करने का मौका मिला है। वैसे भाजपा इस फैसले का चाहे जितना विरोध करे, लेकिन सोशल मीडिया पर इस फैसले को लेकर अलग सी ही प्रतिक्रया आ रही है। सोशल मीडिया पर बहुत से लोगों ने इस फैसले का स्वागत किया है और आदित्य ठाकरे को बधाई भी दी है।

27 जनवरी से खुदरा दुकानों के 24/7 उद्घाटन का प्रस्ताव को राज्य मंत्रिमंडल द्वारा मंजूरी दे दी गई है। पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि इस फैसले से सेवा क्षेत्र में काम करने वाले मौजूदा पांच लाख लोगों को फायदा होगा। इसके साथ ही साथ इस फैसले से अधिक राजस्व एवं रोजगार भी पैदा होगा। हालांकि, पब और बार आम तौर पर 1:30 बजे बंद हो जाएंगे।

स्टैंड-अप कॉमेडियन अतुल खत्री ने ट्विटर पर इस सन्दर्भ में आदित्य ठाकरे को धन्यवाद देते हुए, कहा है कि इस कदम से देश की वित्तीय एवं मनोरंजन राजधानी में व्यापार तथा रोजगार के अवसरों और सुरक्षा को बढ़ावा मिलेगा। कई और लोगों ने भी इस फैसले के समर्थन में ट्वीट किये हैं, जैसे एक महिला कहती हैं कि अब मैं रात के 2 बजे भी बाल कटवा सकती हूं, बैंक जा सकती हूं, और ड्रिंक न करने वालों को रात भर खाना भी मिल सकता है। एक अन्य ने ट्वीट किया है कि मुझे लगता है कि यह फैसला एक सही कदम है। एक विकासशील देश होने के नाते हमारी सूची में कुछ और शहरों की आवश्यकता है। मुझे उम्मीद है कि प्रधानमंत्री कार्यालय भी इस दिशा में सोचेगा और इस तरह के कुछ और शहरों को बनाया जाएगा।

दरअसल यह योजना पहले 26 जनवरी से लागू होने वाली थी, लेकिन भाजपा नेता एवं विधानसभा में मुख्य सचेतक आशीष शेलार के एक ट्वीट ने इसे शायद एक दिन आगे बढ़वा दिया। आशीष शेलार ने ट्वीट कर कहा था, 26 जनवरी गणतंत्र दिवस है, और ड्राई डे है। और उसी दिन पूरी रात पब, बार और डांस बार में शराब परोसी जाएगी। क्या सरकार पूरी तरह से खो गई है?

एक अन्य भाजपा नेता, राज पुरोहित ने इस फैसले का विरोध करते हुए कहा है कि इससे बलात्कार के मामले बढ़ेंगे अगर मुंबई में दुकानें, मॉल, रेस्तरां और फिल्म थिएटर 24 घंटे खुले रहेंगे। मैं पिछले पांच वर्षों से मुंबई में नाइटलाइफ़ का विरोध कर रहा हूं। यह भारतीय संस्कृति का हिस्सा नहीं है। यह फैसला युवाओं को गलत रास्ते पर ले जाएगा और इससे बलात्कार के मामलों में वृद्धि होगी, महिलाओं के खिलाफ अपराध बढ़ेंगे।

Mayank Sharma

Mayank Sharma

Next Story