Top

मुस्लिम युवक ने की कांवड़ यात्रा, परिवार ने घर से बाहर निकाला

By

Published on 4 Aug 2016 3:09 PM GMT

मुस्लिम युवक ने की कांवड़ यात्रा, परिवार ने घर से बाहर निकाला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शामली: मुस्लिम होने के बावजूद एक युवक ने हरिद्वार से कांवड़ यात्रा की। इसके बाद उसने गंगाजल लाकर अपने गांव में ही बने एक प्राचीन शिव मंदिर में जलाभिषेक किया। जिसका नतीजा यह हुआ कि अब उस युवक के परिजनों ने उसका बहिष्कार करना शुरु कर दिया है और घर में कदम रखने पर जान से मारने की धमकी भी दी है। इस बात से डरे युवक ने शामली के डीएम सुजीत कुमार से अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है।

क्या है मामला ?

-मामला शामली के थाना गढ़ीपुक्ता क्षेत्र के गांव भैंसवाल का है।

-जहां पर वकील नाम के एक युवक को मुस्लिम होने के नाते कांवड़ यात्रा और मंदिर जाकर जलाभिषेक करने पर घर से निकाल दिया गया है।

-वकील का कहना है कि वह पिछले चार साल से कांवड़ यात्रा कर रहा है और हर बार वहां से गंगाजल लाकर गांव के ही मंदिर में जलाभिषेक करता है।

-उसके भाई इस बात पर हमेशा उसका विरोध करते हैं।

यह भी पढ़ें ... कांवड़ कैंप से अगवा बच्चे की हत्या, मांगी थी 1.5 करोड़ की फिरौती

मिली जान से मारने की धमकी

-वकील ने कहा कि वह इस बार भी अपने भाइयों के मना करने पर कांवड़ यात्रा पर गया।

-हर बार की तरह उसने हरिद्वार से गंगाजल लाकर गांव के ही एक प्राचीन शिव मंदिर में जलाभिषेक किया।

-लेकिन इस बार वकील के तीनों भाइयों ने उसे और उसके परिवार को घर से बाहर निकाल दिया और जान से मारने की धमकी दी।

-वकील का कहना है कि उसे धमकी दी गई कि अगर वह घर पर आया तो वो उसको जान से मार देंगे।

-वकील ने अपने सगे भाइयों पर मारपीट का आरोप भी लगाया है।

यह भी पढ़ें ... मुस्लिम विधायक कर रहा है शिव भक्त कांवड़ियों की सेवा, कहा- मेरा सौभाग्य

विक्टिम के भाई ने कहा- झूठे हैं आरोप

-वकील के भाई जमील का कहना है कि वकील पर उनके 25 हजार रुपए उधार हैं।

-कई बार मांगने पर भी वह रुपए नहीं लौटा रहा है।

-हमने उसे घर से नहीं निकाला, बल्कि वह कर्ज के पैसे देने की वजह खुद गया है।

-उसने मां और हमारे साथ मारपीट भी की है।

-गंगाजल लाने पर दुत्कारने के बारे में वकील के भाइयों का कहना था कि वकील झूठे आरोप लगा रहा है।

डीएम से की सुरक्षा देने की गुहार

-वकील इतना डरा हुआ है कि वह अब घर नहीं जा रहा और अपने बच्चों को लेकर शामली की सड़को पर दर दर भटकने को मजबूर है।

-वकील ने इस संबंध में शामली के डीएम सुजीत कुमार से अपने और अपने बच्चों की सुरक्षा की गुहार लगाई है।

क्या कहना है डीएम का ?

-शामली के डीएम सुजीत कुमार ने इस मामले में कहा कि गढ़ीपुक्ता थाने की पुलिस को इस मामले में जांच कराने का निर्देश दे दिया गया है।

-इस मामले की जांचकर उचित कार्रवाई की जाएगी।

Next Story