×

इस नियम से बच्चों के खाने पर अब अध्यापक नहीं डाल पाएंगे 'डांका'

अपर मुख्य सचिव के निर्देश के बाद अब आज से प्रदेश के सभी जनपदों के परिषदीय स्कूलों मे ये नियम लागू हो गया है। इतना ही नहीं जो बच्चे गैर हाजिर होंगे उनके नाम के आगे लाल स्याही से निशान लगाने के लिए कहा गया है।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 31 Jan 2019 8:26 AM GMT

इस नियम से बच्चों के खाने पर अब अध्यापक नहीं डाल पाएंगे डांका
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: स्कूल के बच्चो के खाने पर अब अध्यापक डांका नहीं डाल पाएंगे। शासन ने जनपद बांदा को नजीर मानते हुए प्रदेश के सभी जनपदों मे एमडीएम (मिड-डे मील) खाने के बाद सभी बच्चों से एक रजिस्टर पर साइन कराने होंगे।

अपर मुख्य सचिव के निर्देश के बाद अब आज से प्रदेश के सभी जनपदों के परिषदीय स्कूलों मे ये नियम लागू हो गया है। इतना ही नहीं जो बच्चे गैर हाजिर होंगे उनके नाम के आगे लाल स्याही से निशान लगाने के लिए कहा गया है। शासनादेश मिलते ही बीएसए ने इस नये नियम को तत्काल प्रभाव से लागू करने के लिए सभी स्कूलों को लेटर लिख दिया है।

ये भी पढ़ें— US राष्ट्रपति ट्रंप ने वेनेजुएला में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन को बताया ‘आज़ादी की लड़ाई

दरअसल सरकारी स्कूलों मे गरीब बच्चो को भोजन देने के लिए सरकार ने एमडीएम के नाम से बच्चो को खाना दिया जाता था। लेकिन स्कूल के अध्यापक गरीब बच्चो के भोजन पर डाका डाल देते थे। जिसकी तमाम शिकायते शासन प्रशासन मे की जाती रही है। लेकिन जनपद बांदा जिले मे एमडीएम खाना बच्चो को खिलाने के बाद अध्यापक बच्चो से एक अलग रजिस्टर पर साईन कराते थे। जो बच्चे गैर हाजिर होते थे उन बच्चो के नाम के आगे लाल स्हायी से निशान लगाया जाता है।

ये भी पढ़ें— गाजियाबाद: बेकरी की फैक्‍ट्री में लगी आग, एक की मौत, बचाव कार्य जारी

इसी पहल को नजरी मानते हुए अपर प्रमुख सचिव ने इसको पूरे प्रदेश मे लागू कर दिया है। शासनादेश प्राप्त होते ही बीएसए राकेश कुमार ने सभी स्कूलों को लेटर लिखकर इस शासनादेश का तत्काल प्रभाव से पालन करने की बात की है। साथ ही ये लिखा है कि सभी स्कूल के अध्यापक एक रजिस्टर बनाए और शासनादेश के अनुसार उसका पालन किया जाए। इसमे लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नही की जाएगी।

ये भी पढ़ें— पाक विदेश मंत्री द्वारा हुर्रियत नेता से फोन पर बात करने पर भारत ने दी चेतावनी, कहा…

बीएसए राकेश कुमार का कहना है कि शासनादेश प्राप्त होते ही सभी स्कूलों को निर्देशित कर दिया गया है कि आज से एक रजिस्टर बनाकर एमडीएम खाने के बाद बच्चों से साईन कराए जाएंगे। अगर कहीं से कोई लापरवाही सामने आएगी तो कङी कार्यवाई की जाएगी।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story