×

Sonbhadra News: दोस्त के साथ निकले युवक की संदिग्ध मौत में नया मोड़, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप, FIR दर्ज

Sonbhadra News: ओम चौराहे के पास संदिग्ध हाल में घायल मिले युवक की मौत मामले में नया मोड़ सामने आया है। ओबरा पुलिस ने आरोपी दोस्त के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

Kaushlendra Pandey
Updated on: 5 Aug 2022 11:02 AM GMT
New twist in the suspicious death of a young man who came out with a friend, family members allege murder, FIR registered
X

सोनभद्र: दोस्त के साथ निकले युवक की संदिग्ध मौत में नया मोड़: Photo- Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sonbhadra News: ओबरा थाना क्षेत्र (Obra police station area) के ओम चौराहे के पास संदिग्ध हाल में घायल मिले युवक की मौत मामले में नया मोड़ सामने आया है। पहले सड़क दुर्घटना बताए जा रहे इस मामले में परिवार के लोगों ने दोस्त पर ही हत्या का शक जताकर सनसनी फैला दी है। मामले में थाने पर तहरीर देने के साथ ही, इसकी आनलाइन भी शिकायत दर्ज कराई गई है। ओबरा पुलिस (Obra Police) ने आरोपी दोस्त के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। उधर, क्षेत्राधिकारी शंकर प्रसाद (Officer Shankar Prasad) ने मामले में यथाशीघ्र साक्ष्य संकलन कर मामले के निस्तारण के निर्देश दिए हैं।

कुछ यह है पूरा घटनाक्रम

चोपन के गौरव नगर (Chopans Gaurav Nagar) निवासी इरफान अली पुत्र जहीर अली गत 14 जुलाई की भोर में अपने दोस्त आफताब आलम के साथ घर के लोगों को बिना बताए बाइक से कहीं चला गया। परिवार के लोगों को मालूम हुआ तो उन्होंने उसके बारे में जानकारी हासिल की तो पता चला कि वह चौराहे पर घायल अवस्था में मिला है और उससे कुछ दोस्त उसे सीएचसी चोपन ले गए हैं।



पिता गौरव अली का आरोप है कि जब उन्होंने उसके दोस्त आफताब से जानकारी चाही तो उसका कहना था कि रास्ते में वह उसे छोड़कर एक लड़की के साथ चला गया था। रास्ते में ओम चौराहे पर वह सड़क हादसे की चपेट में आ गया। परिवार के लोग भागते हुए चोपन सीएचसी पहुंचे तो वहां वह गंभीर रूप से घायलावस्था में पड़ा था।

धारदार हथियार से किया गया घायल

हालत नाजुक देखते हुए चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। वहां से वाराणसी ट्रामा सेंटर भेज दिया गया। परिजनों का कहना है कि वहां डाक्टरों ने बताया कि उसे किसी धारदार हथियार से वार कर गंभीर रूप से घायल किया गया है। ट्रामा सेंटर में दो दिन उपचार चला। इसके बाद मौत हो गई। शव का पीएम कराने के बाद हत्या का आरोप लगाते हुए एसपी डॉ. यशवीर सिंह से मिलकर कार्रवाई की गुहार लगाई। उन्होंने सीओ ओबरा शंकर प्रसाद को जांच कर कार्रवाई का निर्देश दिया। प्रथमदृष्टया मामला गंभीर पाते हुए मामले में मृतक के दोस्त आफताब आलम के खिलाफ



धारा 279, 304ए के तहत मामला शादी कर छानबीन शुरू कर दी है। ओबरा सीओ शंकर प्रसाद का कहना है कि मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। प्रभारी निरीक्षक ओबरा को यथाशीघ्र साक्ष्य संकलन करने के निर्देश दिए हैं।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story