Top

CM ने दी नए MLC सदस्यों को बधाई, कहा-वक्त हमारा है, मिलकर आगे बढ़ें

Admin

AdminBy Admin

Published on 9 March 2016 8:27 AM GMT

CM ने दी नए MLC सदस्यों को बधाई, कहा-वक्त हमारा है, मिलकर आगे बढ़ें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: विधान परिषद के नवनिर्वाचित सदस्यों को बुधवार को विधान परिषद सभा मंडप में शपथ दिलाई गई। सुबह 11बजे विधान परिषद सभापति ओम प्रकाश शर्मा ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। परिषद में कुल 36 सस्दयों को शपथ दिलाया गया।

अखिलेश यादव, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, मुख्यमंत्री

इस दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नवनिर्वाचित सदस्यों को बधाई दी। कहा कि नेताजी के संघर्ष से पार्टी यहां तक पहुंची है। अब हम सबको मिलकर इसे आगे ले चलना है। हमने गांव और शहर के विकास में कोई भेदभाव नहीं किया। उसमें संतुलन बनाए रखा है। विधान परिषद की गरिमा सबसे बड़ी है। उच्च सदन अब युवा सदन हो गया है। वक्त हमारा है हमें सबको लेकर आगे बढ़ना है। जो वरिष्ठ है वे नए सदस्यों का सहयोग करें।

vidhan

राज्यपाल ने शपथ की फाइल रोकी

दरअसल हुआ यूं कि मंगलवार को तय हुआ था कि विधानपरिषद सदस्यों को बुधवार को शपथ दिलाई जाएगी और इन सदस्यों को शपथ दिलाने के लिए फाइल सीधे राजभवन भेज दी गई। जानकारों की मानें तो फाइल पहले सीएम अखिलेश यादव को भेजी जानी चाहिए थी और फिर उनके जरिए शपथ की अनुमति के बाद फाइल राजभवन पहुंचती। इस पर राज्यपाल राम नाईक ने फाइल रोक ली। जिसके बाद अफसरशाही में हड़कम्प मच गया।

1111111

वहीं ये भी कहा जा रहा था कि एमएलसी सदस्यों को पूर्णकालिक सभापति और राज्यपाल महोदय ही शपथ दिलवा सकते हैं। ऐसा न होने पर राज्यपाल प्रोटेम सभापति को शपथ दिलाने के लिए अधिकृत कर सकते हैं। इसको देखते हुए बीच का रास्ता निकाला गया। अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को पूरे घटनाक्रम से अवगत कराया तो सीएम ने राज्यपाल से बात की। उसके बाद श्री नाईक ने निर्वाचन आयोग से अधिसूचना मांग ली और ये मिलने के बाद ही उन्होंने एमएलसी सदस्यों के शपथ लेने संबंधी फाइल पर अनुमोदन दिया। तब जाकर अफसरों ने राहत की सांस ली।

नीचे स्लाइड्स में देखिए विधान परिषद में शपथ लेते सदस्य

22222

111111

11111

11111111

1111111

2222

1111

111

222

11

assembly

Admin

Admin

Next Story