Top

VIDEO: अधिकारी ले रहे AC का मजा, स्कूलों में बच्चे ऐसे कर रहे पढ़ाई

Admin

AdminBy Admin

Published on 27 April 2016 6:45 AM GMT

VIDEO: अधिकारी ले रहे AC का मजा, स्कूलों में बच्चे ऐसे कर रहे पढ़ाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

महोबाः ज़िले के प्राइमरी स्कूलों में बिजली कनेक्शन न होने से स्टूडेंट्स की पढ़ाई पर असर पड़ रहा है। 45 डिग्री के पास पहुंच चुका तापमान बच्चों के लिए मुसीबत बना हुआ है, जबकि बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारी एयर कंडीशन हवा और मिनरल वाटर का मजा ले रहे हैं।

स्कूलों में नहीं है बिजली कनेक्शन

-बढ़ती गर्मी से सरकारी स्कूलों का समय सुबह 7 से 12 बजे तक किया गया है।

-समय बदलने से बच्चों को कोई लाभ नहीं मिल रहा है।

-महोबा जिले का तापमान 45 डिग्री के आंकड़े को पार कर रहा है।

यह भी पढ़े...यहां 800 स्कूलों में नहीं बिजली, 44 डिग्री पारे में कैसे पढे़ं बच्‍चे?

-ऐसे में पढ़ने वाले बच्चों में कोई रूचि नहीं दिखाई दे रही है।

-विभाग की लापरवाही से जिले के दर्जन भर स्कूलों में बिजली कनेक्शन नहीं है।

-स्कूल में पंखे और बल्ब तो लगाए गए हैं, लेकिन बिजली कनेक्शन नहीं हैं।

-इससे स्कूलों में आने वाले बच्चों की संख्या में कमी आ रही है।

शहरी क्षत्रों में भी है ये हाल

ऐसा नहीं है कि ये स्थिति सिर्फ ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूलों की है। शहरी क्षेत्रों में भी कई स्कूल बिजली कनेक्शन से महरूम हैं। शहर के मुहल्ला बजरिया के उच्च प्राथमिक स्कूल, कन्या प्राथमिक स्कूल और ग्रांट गंज के प्राथमिक स्कूल का भी यहीं हाल है। इन स्कूलों में भी संसाधन मौजूद है लेकिन इन्हें व्यवस्थाओं की दरकार है।

यह भी पढ़े...पीने के पानी को तरस रहा बुंदेलखंड, बच्‍चों ने किताब की जगह थामा घड़ा

क्या कहते हैं टीचर्स?

-टीचर्स की मानें तो स्कूल में पिछले पांच सालों से लाइट और पंखे लगाए गए हैं।

-इन्हें अभी तक विभाग द्वारा बिजली कनेक्शन नहीं दिया गया है।

-बेसिक शिक्षा विभाग को कई बार कहा गया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

-सिर्फ आश्वासन मिलता है और हर साल गर्मी का सीजन ऐसे ही बीत जाता है।

-स्कूलों में हवा के आलावा पानी की भी बड़ी समस्या बनी हुई है।

-स्कूलों में बने हैंडपंप भी सूखे के चलते बंद हो गए है।

-जो हैंडपंप चल रहे हैं उनमें खारा पानी आ रहा है।

-पढ़ाई के समय बच्चों को पीने का पानी लेने के लिए दूर जाना पड़ता है।

-गर्मी का असर पढ़ाई के साथ-साथ स्वास्थ पर भी पड़ रहा है।

यह भी पढ़े...क्लास टू की स्टूडेंट को टीचर ने पीटा, कान का पर्दा फटने की आशंका

एयर कंडीशन का मजा ले रहे अधिकारी

सरकारी स्कूलों में बच्चे गर्मी से परेशान है तो वहीं बेसिक शिक्षा विभाग के बीएसए रामेश्वर प्रसाद पाल और उनके कर्मचारी सरकारी दफ्तर में एयर कंडीशन की ठंडी हवा और मिनरल वाटर का मजा ले रहे हैं। बिजली कनेक्शन के आभाव में प्रभावित हो रहे शिक्षण कार्य से साहब को कोई खास फर्क नहीं पड़ रहा है।

क्या कहते हैं अधिकारी?

-ग्रामीण क्षेत्रों में बने स्कूलों में कनेक्शन है लेकिन गांव के लोग तार काट ले जाते हैं।

-स्कूलों में नए कनेक्शन के लिए बिजली विभाग से बात की जाएगी।

Admin

Admin

Next Story