जिले में करोड़ों रुपए हो गया खर्च, फिर भी कहीं नहीं दिख रही हरियाली

प्राधिकरण के मुताबिक वित्तीय वर्ष में 2020-21 के लिए भी प्राधिकरण ने 88.10 करोड़ रुपये 267 कार्यो पर खर्च करेगा। 230 टेंडर जारी कर चुका है

नोएडा: हरियाली बढ़ाने और उनके अनुरक्षण कार्य के लिए प्राधिकरण करोड़ रुपए खर्च कर रही है। लेकिन अब भी शहर में हरियाली कुछ चुनिंदा स्थानों पर ही दिख रही है। यह स्थिति तब है जब प्रति वर्ष लाखों पौधरोपड़ प्राधिकरण की ओर से कराया जाता है। इसके लिए प्राधिकरण में भारी भरकम फौज है, जो उद्यान विभाग का कार्य देख रही है।

वर्टीकल गार्डन से गार्डन गायब

प्राधिकरण के मुताबिक वित्तीय वर्ष में 2020-21 के लिए भी प्राधिकरण ने 88.10 करोड़ रुपये 267 कार्यो पर खर्च करेगा। 230 टेंडर जारी कर चुका है, जिसके लिए 79.18 करोड़ रुपये 35 अनुबंधन का प्रस्ताव तैयार है। 8.92 करोड़ रुपये का टेंडर जारी किया जाना बाकी है। आइए आप को शहर की कुछ जगहों का नजरा दिखाते हैं। पिछले दो वर्ष से शहर में अचानक वर्टीकल गार्डन की बहार आ गई है। शहर को सुंदर दिखाने के लिए जगह-जगह वर्टीकल गार्डन को विकसित किया जा रहा है। लेकिन वर्टीकल गार्डन की हालत को देखें तो वहां पर गार्डन गायब हो चुका है।

ये भी पढ़ें-    अपराधियों के हौसले बुलंद, दिनदहाड़े दिया लूट की घटना को अंजाम

डीएनडी टोल से रजनीगंधा अंडरपास आने पर शाहदरा ड्रेन पर वर्टीकल सड़क पर धूल खाता दिख रहा है। अभी कुछ माह पहले सेक्टर-14 के पास शाहदरा ड्रेन पर पुल की चौड़ाई बढ़ाई गई है। इस रास्ते पर दोनों तरफ वर्टीकल गार्डन को लगाया गया है। जिससे शाहदरा ड्रेन भी नजर नहीं आए और पौधों की आड़ में आने वाली बदबू दूर हो जाए, लेकिन यहां से गार्डन गायब हो चुका है, वर्टीकल गायब होने का इंतजार कर रहा है।

प्राप्त बैलेंस सीट आंकड़ों के आधार पर

वर्ष पार्क का अनुरक्षण कार्य ग्रीन बेल्ट का अनुरक्षण कार्य
2015-16 841556838 लाख 304909969 लाख
2016-17 791346361 लाख 284009527 लाख
2017-18 713187821 लाख 247269875 लाख
2018-19 197296148 लाख 39346488 लाख

प्राधिकरण के पास स्थन
वर्ग संख्या
पार्क (726) 1200 एकड़
हरित पट्टिका 800 एकड
पथ पौधरोपड़ 150 किलोमीटर

ये भी पढ़ें-    मंडलायुक्त ने की बैठक, कोविड-19 हेल्प डेस्क पर दिया ये बड़ा निर्देश

यह है पौध रोपण की स्थिति
वित्तीय वर्ष पौधरोपण
2017-18 149504
2018-19 404000
2019-2० 503412
2020-21 26000

यह हुआ कार्य

जगह संख्या
डस्ट फ्री जोन 205 किलोमीटर
वर्टीकल गार्डन 66 जगह
विलोपित कूड़ाघर 120

ये भी पढ़ें-    चारधाम यात्रा का आगाज, श्रद्धालुओं के लिए 600 ई-पास जारी

प्राधिकरण की ओर से हाल ही में पार्क के अनुरक्षण कार्य में जुटी कंपनियों के खिलाफ नकेल कसी गई है। नोटिस जारी किया गया है। कुछ को ब्लैकलिस्ट करने की तैयारी की जा रही है। प्रतिदिन निरीक्षण कार्य मैं खुद कर रहा हूं। इंदु प्रकाश सिह, निदेशक उद्यान, नोएडा प्राधिकरण

रिपोर्ट- दीपांकर जैन