एसटीएफ ने 5 करोड़ से अधिक की ठगी करने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश

एसटीएफ ने गिरफ्तार आरोपियों की पहचान शुभम मिश्रा पुत्र हरि कांत मिश्रा निवासी रवि नगर थाना मुगलसराय चंदौली, पंकज कुमार पुत्र भगवती शाह निवासी बलिया नवाबगंज के रूप में की है।

नोएडा: नोएडा एसटीएफ ने एयरटेल की डीडीटीएम मशीन, टावर लगाने, बीमा पॉलिसी कैंसिल करवाने, आईपीओ में निवेश कराने के नाम पर देश भर के 1 लाख लोगों का डाटा चोरी करके करीब 5 करोड़ से अधिक की ठगी करने वाले दो गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने दोनों गिरोह के मुखिया को गिरफ्तार किया है।

एसटीएफ ने गिरफ्तार आरोपियों की पहचान शुभम मिश्रा पुत्र हरि कांत मिश्रा निवासी रवि नगर थाना मुगलसराय चंदौली, पंकज कुमार पुत्र भगवती शाह निवासी बलिया नवाबगंज के रूप में की है।

ये भी देखें : महिलाओं ने हजरतगंज मेट्रो स्टेशन पर मनाया तीज उत्सव

फर्जी कॉल सेंटर संचालित करके ठगी कर रहा है

नोएडा एसटीएफ एएसपी विशाल विक्रम ने बताया कि उन्नाव के पश्चिम टोला निवासी डॉ. अशोक कुमार दुबे ने जिले के पुरवा थाने में शिकायत दी थी। दुबे ने बताया था कि ठगों ने उनके मकान की छत पर डिजिटल डाटा मशीन लगाने के नाम पर 20 लाख रुपए की धोखाधड़ी की है। मामले को जांच के लिए एसटीएफ नोएडा को सौंपा गया था। एसटीएफ को जांच के दौरान पता चला कि शुभम मिश्रा नाम का व्यक्ति नोएडा के सेक्टर 6 में एक फर्जी कॉल सेंटर संचालित करके ठगी कर रहा है।

इसके बाद पुलिस ने 9 अगस्त की देर रात सेक्टर 6 स्थित बी 47 में कॉल सेंटर पर छापेमारी कर गिरोह के मास्टरमाइंड दिल्ली के मयूर विहार फेज 1 निवासी शुभम मिश्रा और उसके साथी दिल्ली के करावल नगर शिव विहार निवासी पंकज कुमार को गिरफ्तार किया।

ये भी देखें : 15 अगस्त 2019 : 100 में दो ही जानते होंगे भारत की आजादी का ये राज

आरोपियों ने खुलासा किया वह देशभर में करीब 1 लाख ग्राहकों का डाटा चोरी कर विभिन्न तरीकों से 5 करोड़ रुपए की ठगी कर चुके है। मूलरुप से चंदौली के रवि नगर निवासी शुभम ने अशोक दुबे से 20 लाख रुपए की ठगी की बात भी स्वीकार की है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App