तहसील दिवस में फरियादी करते रहे इंतजार, आलाधिकारी रहे गायब

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी के सख्त आदेशों के बाद भी उनके अधिकारी आदेशों की जमकर धज्जियाँ उङाते नजर आते है। आज तहसील दिवस है। भीषण गर्मी होने के बाद भी कर्मचारियों ने तहसील के अंदर ही अधिकारीयों और फरियादियों के बैठने का इंतजाम किया।

शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश के सीएम योगी के सख्त आदेशों के बाद भी उनके अधिकारी आदेशों की जमकर धज्जियाँ उङाते नजर आते है। आज तहसील दिवस है। भीषण गर्मी होने के बाद भी कर्मचारियों ने तहसील के अंदर ही अधिकारीयों और फरियादियों के बैठने का इंतजाम किया।

ये भी देंखे:प्रधानमंत्री द्वारा बुलाए गई सभी राजनीतिक दलों की बैठक में शामिल नहीं होंगी ममता बनर्जी

लेकिन यहां के अधिकारी गर्मी बर्दाश्त नही कर पाए रहे हैं। यही कारण है कि फरियादी तपती गर्मी मे अपनी फरियाद लेकर आए। लेकिन उनकी फरियाद सुनने के लिए अधिकारी नही आए। लेटलतीफी की भी हद है कि दो घंटा लेट अधिकारी तहसील दिवस मे पहुचे। उसके बाद कार्यवाई शुरू की गई।

दरअसल आज तहसील पुवायां मे तसहील दिवस होना था। तहसील दिवस मे ऐसे फरियादी आते है। जो अपनी फरियाद आलाधिकारियों तक नही पहुचा पाते है। या फिर ऐसे फरियादी जिनकी शिकायतों का निस्तारण कई साल से नही हो पाया। तहसील दिवस मे डीएम से लेकर एसपी और सभी विभागों के आलाधिकारी भी मौजूद रहते है। इसलिए तहसील दिवस मे आने वाली फरियादों को तत्काल उसका निस्तारण करने के प्रयास किए जाते है। ऐसे ही आज भी तहसील दिवस हुआ। उसमे फरियादियों की भीड़ बङना शुरू हुई। दूर दूर से फरियादी आए। पारा करीब 41 डिग्री के पार पहुच चुका है।

ये भी देंखे:बच्चों की मौत के लिए मुख्यमंत्री जिम्मेदार: राजीव प्रताप रुड़ी

ऐसे तपती गर्मी मे हाथ मे काज लिए फरियादी तय समय पर आ गए थे। लेकिन तहसील दिवस मे आने वाले आलाधिकारियों को गर्मी बर्दाश्त नही है। यही कारण है कि डीएम अमृत त्रिपाठी से लेकर प्रभारी एसपी सुभाष चन्द्र शाक्य दो घंटा लेट पहुचे। अधिकारी तो लग्जरी कार से उतरे और मंच पर उनके बङे कूलर लगे थे। उनको तो गर्मी का अहसास नही हुआ। लेकिन उन ग्रामिणों से पूछिए जिनको भीषण गर्मी मे अपने डीएम साहब का दो घंटा इंतजार करना पड़ा।

ये भी देंखे:इस फिल्म की शूटिंग करने लखनऊ पहुंचे महानायक अमिताभ बच्चन

तहसील दिवस मे आए अरविंद कुमार मिश्रा का कहना है कि दो घंटे से ज्यादा समय बीत चुका है। एक प्रमाण पत्र बनवाना है। लेकिन अधिकारी नही सुन रहे हैं। इसलिए तहसील दिवस मे आना पड़ा। लेकिन यहां भी अधिकारी नही पहुचे है।

किसान बलदेव सिंह का कहा है कि मेरी जमीन पर कुछ लोगों ने कब्जा कर रखा है। थाने से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों के चक्कर लगा चुके है। लेकिन कोई कार्रवाई नही की गई। अब वह तसहील दिवस मे आए तो यहां भी दो घंटे ज्यादा समय बीत चुका है। इंतजार कर रहे है अधिकारियों का डीएम साहब भी दो घंटा लेट पहुचे है। जबकि भीषण गर्मी हो रही है।

ये भी देंखे:यूपी कैबिनेट का फैसला, गोरखपुर में शहीद अशफाकउल्ला पार्क की होगी स्थापना