Top

ऑपरेशन स्माइल कब लौटाएगा कौशांबी के इन घरों की खोई हुई मुस्कान ?

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 19 Jan 2016 11:50 AM GMT

ऑपरेशन स्माइल कब लौटाएगा कौशांबी के इन घरों की खोई हुई मुस्कान ?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कौशांबी: राज्य में गुमशुदा लोगों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए पुलिस ऑपरेशन स्माइल अभियान चला रही है। अभियान का उद्देश्य उन लोगों तक पहुंचना है, जो किसी न किसी वजह से अपनों से बिछुड़ गए है। इस अभियान ने भले ही कई घरों में खुशियों के दीप जला दिए हों, लेकिन कौशांबी के कुछ ऐसे घर अब भी ऐसे हैं, जहां ये अभियान उनकी खोई हुई मुस्कुराहट लौटाने में कामयाब नहीं हो सका है।

शालिनी तक नहीं पहुंचा 'ऑपरेशन स्माइल'

* यहां के महेबाघाट इलाके की रहने वाली शालिनी सितंबर, 2015 से गायब है।

* वह कक्षा 8वीं की छात्रा है। स्कूल के एक टीचर राजकुमार ने उसे अगवा कर गायब कर दिया।

* अब तक न तो शालिनी का पता चल सका है और न उस टीचर का।

* पुलिस ने मामला तो दर्ज किया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की।

* शालिनी की मां सीमा देवी ने कहा कि बेटी को उसके बेहतर भविष्य के लिए स्कूल भेजा था।

* स्कूल ने उसकी बेटी ही छीन ली। यहां शालिनी की तरह ही करीब 60 बच्चे लापता हैं।

* अब तक उन्हें खोजने में पुलिस का 'ऑपरेशन स्माइल' नाकाम रहा है।

* एसपी वीरेन्द्र कुमार मिश्रा ने कहा कि राज्य सरकार अभियान में तेजी लाने के लिए काम कर ही है।

* टीम बनाकर संभावित इलाकों में छापेमारी की जा रही है।

Newstrack

Newstrack

Next Story