Top

आग के बाद फैक्ट्री मालिक पर आरोप,बोरी के पीछे छिपाई मजदूर की लाश

Admin

AdminBy Admin

Published on 14 March 2016 7:29 AM GMT

आग के बाद फैक्ट्री मालिक पर आरोप,बोरी के पीछे छिपाई मजदूर की लाश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुरः बिस्किट बनाने वाली फैक्ट्री में शॉट सर्किट से आग लग गई। जिसमें एक मजदूर की मौत हो गई और लाखों का माल जलकर राख हो गया। मौके पर पहुंची फायर ब्रिग्रेड ने चार घंटे के बाद आग पर काबू पाया। फैक्ट्री मालिक ने मजदूर की डेड बॉडी को मैदे के बोरे के पीछे छिपाया और मजदूरों को इसकी जानकारी किसी को भी देने से मना किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं।

f.2

क्या है मामला

-गोविंद नगर थाना क्षेत्र के साइड नंबर 05 में हरिओम बेकर्स के नाम से दुकान है।

-यह दुकान देवा ठाकुर और नरेश सतवानी की है।

-सोमवार की सुबह फैक्ट्री में 11 मजदूर सो रहे थे,तभी फैक्ट्री में आग लग गई।

factry5

-मजदूरों की जब नींद खुली तो उन्होंने अपने आप को आग में घिरा हुआ पाया।

-किसी तरह सभी अपनी जान बचा कर भागे।

-लेकिन 21 साल का रिजवान आग की चपेट में आ गया।

-फैक्ट्री के अन्दर ही जलकर उसकी मौत हो गई।

-मजदूरों ने आग की सुचना फैक्ट्री मालिक और दमकल को दी।

-मौके पर पहुंची दमकल गाड़ियों ने कड़ी मसक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

factry3

मृतक के भाई ने लगाया आरोप

-मृतक रिजवान के भाई मो. लाइक ने कहा कि पूरा परिवार सीतापुर में रहता है।

-हम दोनों भाई यहां पर नौकरी करने के लिए आये थे।

-फैक्ट्री मालिक ने रिजवान की मौत की बात किसी को बताने से मना किया था।

-वह उसकी लाश को बोरों के बीच छीपा दिया था।

f.1

क्या कहते हैं सीएफओ डी.के. सिंह

-आग ने चारों तरफ से फैक्ट्री को अपनी चपेट में ले लिया था।

-उन्होंने बताया कि जब देखा गया कि दो चार गाडियों से स्थिति नहीं संभलेगी।

-तो अन्य फायर स्टेशन से भी दमकल की गाडियों को बुलाया गया।

-फैक्ट्री को चारों तरफ से घेरा बंदी कर पानी की बौछार की गई।

-तब फैक्ट्री के अन्दर जाने का रास्ता बन पाया।

-फ़िलहाल अब आग काबू में है।

Admin

Admin

Next Story