×

वाराणसी में PAC के जवान ने खुद को मारी गोली, छुट्टी न मिलने से था परेशान

एसपी सिटी कार्यालय में रिज़र्व ड्यूटी पर तैनात 36वीं वाहिनी पीएससी के जवान रणजीत सिंह ने संदिग्ध परिस्थिति में अपनी लाइसेंसी रायफल से खुद को गोली मार ली। गोली की आवाज़ पर पहुंचे साथियों ने गंभीर अवस्था में उसे तत्काल मंडलीय चिकित्सालय कबीरचौरा पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 11 Feb 2019 1:42 PM GMT

वाराणसी में PAC के जवान ने खुद को मारी गोली, छुट्टी न मिलने से था परेशान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

वाराणसी: एसपी सिटी कार्यालय में रिज़र्व ड्यूटी पर तैनात 36वीं वाहिनी पीएससी के जवान रणजीत सिंह ने संदिग्ध परिस्थिति में अपनी लाइसेंसी रायफल से खुद को गोली मार ली। गोली की आवाज़ पर पहुंचे साथियों ने गंभीर अवस्था में उसे तत्काल मंडलीय चिकित्सालय कबीरचौरा पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया है। रणजीत के सीने में गोली लगी है। माना जा रहा है कि छुट्टी ना मिलने से पीएसी का जवान परेशान था।

यह भी पढ़ें.....हमारे गठबंधन के बाद भाजपा का कोई किस्मतवाला ही चुनाव जीत पायेगा: बेनी प्रसाद

पारिवारिक समस्या से था परेशान

खबरों के मुताबिक पीएसी के सिपाही रणजीत सिंह ने घटना के लिए खुद को जिम्मेदार बताया। उसने बताया कि पारिवार समस्याओं के कारण वो पिछले कुछ दिनों से परेशान था। इसके अलावा वह शराब का आदि भी हो चुका था। इसी अवसाद में उसने खुद को गोली मार ली। गोली चलते ही एसपी सिटी कार्यालय में हड़कंप मच गया। उसे कबीरचौरा अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां प्रारंभिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने उसे ट्रामा सेंटर के लिए भेज दिया।

यह भी पढ़ें.....CAG ने राफेल पर राष्ट्रपति को भेजी रिपोर्ट, कल संसद में हो सकती है पेश

अधिकारियों ने साधी चुप्पी

फिलहाल उसका इलाज ट्रामा सेंटर में चल रहा है। वहीं रणजीत लगातार लग रही ड्यूटी से भी परेशान था और कई दिनों से परिवारिक समस्या से भी अवसाद में था। इसे भी वजह मना जा रहा है । फिलहाल इस सम्बन्ध में कोई भी अधिकारी कुछ बोलने को अभी तैयार नहीं है। घटना की गंभीरता को देखते हुए कबीरचौरा अस्पताल पर सीओ चेतगंज अंकिता सिंह, थानाध्यक्ष चेतगंज, सीओ कोतवाली बृजनदन राय और थानाध्यक्ष कोतवाली आशुतोष मिश्रा माय पुलिस फ़ोर्स के पहुँच गए थे।

यह भी पढ़ें.....प्रियंका गांधी के सियासी एंट्री पर घमासान, पीएम के गढ़ में ‘पोस्टर वार’

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story