×

पद्मश्री सम्मान सभी किसान भाइयों का सम्मान है: भारत भूषण

भारत भूषण त्यागी पिछले करीब दो दशकों से जैविक खेती करते हैं। साथ ही गोष्ठियां और सम्मेलनों में अन्य किसानों को भी जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित करते है। उन्होंने न केवल स्वयं जैविक खेती की, बल्कि मेरठ मंडल और दूसरे प्रदेशों में जाकर भी जैविक खेती के लिए किसानों को कार्यशाला आयोजित करके प्रेरित किया।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 27 Jan 2019 9:50 AM GMT

पद्मश्री सम्मान सभी किसान भाइयों का सम्मान है: भारत भूषण
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मेरठ: मेरठ मंडल में जैविक खेती के जनक के नाम से मशहूर बुलन्दशहर जनपद के स्याना तहसील क्षेत्र के गांव बीहटा निवासी किसान भारत भूषण त्यागी पद्मश्री सम्मान से नवाजे जाने वालों में से एक हैं।

बता दें कि भारत भूषण त्यागी पिछले करीब दो दशकों से जैविक खेती करते हैं। साथ ही गोष्ठियां और सम्मेलनों में अन्य किसानों को भी जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित करते है। उन्होंने न केवल स्वयं जैविक खेती की, बल्कि मेरठ मंडल और दूसरे प्रदेशों में जाकर भी जैविक खेती के लिए किसानों को कार्यशाला आयोजित करके प्रेरित किया।

भारत भूषण त्यागी कहते हैं,केन्द्र सरकार ने मुझे पदम श्री पुरस्कार के योग्य समझा,इसके लिए मैं केन्द्र सरकार का आभारी हूं। बकौल भारत भूषण त्यागी,पदम श्री सम्मान मेरा नही सभी किसान भाइयों का सम्मान है। भारत भूषण त्यागी के अनुसार किसानों के बीच जाकर जैविक खेती की अलख जगाने केलिए उन्हें पूर्व में भी प्रदेशऔर केन्द्र सरकार द्वारा कई बारभिन्न मौकों पर सम्मानित किया जा चुका है।

त्यागी के अनुसार उन्होंने गांव से बाहर फार्म हाउस में जैविक खेती की करीब दो दशक पूर्व शुरुआत की थी। शुरु में लोंगो ने उनकी मजाक उड़ाया। लेकिन बाद में जब मैने कार्यशालाओं के माध्यम से उन्हें जैविक खेती के फायदों के बारे में विस्तार से बताया तो दूसरे किसान भी जैविक खेती की तरफ आर्कर्षित होने लगे।

ये भी पढ़ें...ओडिशा के सीएम की बहन गीता मेहता ने पद्मश्री लेने से किया मना, कहा- सही समय नहीं

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story