Top

पंचायत चुनावः अजब कहानी, वादों पर बीते कई साल, नहीं हुआ विकास

प्रदेश में पंचायत चुनावों का विगुल बज गया है। भाग्यनगर ब्लाक क्षेत्र की एक पंचायत के मजरा के ग्रामीण कई सालों से गाँव ..

Pravesh Chaturvedi

Pravesh ChaturvediReport by Pravesh Chaturvedi

Published on 9 April 2021 3:14 PM GMT

पंचायत चुनावः अजब कहानी, वादों पर बीते कई साल, नहीं हुआ विकास
X

औरैया (photo- newstrack.com)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

औरैयाः प्रदेश में पंचायत चुनावों का विगुल बज गया है। भाग्यनगर ब्लाक क्षेत्र की एक पंचायत के मजरा के ग्रामीण कई सालों से गाँव के विकास की राह देख रहे थे। विकास न होने से मायूस ग्रामीणों ने एक जुट होकर खुलकर अपनी बात रखी। कहा कि अब वोट उसी को देंगे जो गाँव का विकास कराएगा, गाँव को स्वच्छ रखेगा, सड़के बनवायेगा। इस वार शिक्षित उम्मीदवार को ही वोट करेंगे।

बता दें कि ब्लाक भाग्यनगर की ग्राम पंचायत के मजरा डेरा बंजारा (साहब नगर) में प्रधानी के कई कार्यकाल गुजर जाने के बाद भी गाँव की कई गलियां कच्ची है। अधिकतर गलियों में खड़ंजा विछा हुआ है। उनमें न इंटरलॉकिंग हो पायी और न ही आरसीसी। घरों से निकलने वाले पानी का निकास नहीं है। गलियों और नालियों में गंदा पानी भरा रहता है।

ऐसी जिंदगी जीने पर लोग मजबूरः

ग्रामीण नारकीय जिंदगी जीने को मजबूर हैं। गंदी नालियों से उड़ती बदबू से ग्रामीण परेशान रहते हैं। लोगो के आने जाने में दिक्कतें होती हैं।ग्रामीण राज किशोर, नंदकिशोर, रविंद्र कुमार, सुरेश कुमार, गोविंद, राम प्रसाद, सोवरन सिंह, शैलेंद्र सिंह ने बताया कि गाँव में किसी भी जनप्रतिनिध ने ध्यान नहीं दिया। जीतने के बाद मुड़कर भी नहीं देखा। अब ग्राम पंचायत के चुनाव चल रहे हैं कई प्रत्याशी मैदान में उतरे हैं इस वार हम लोग गाँव का कायाकल्प कराने वाले शिक्षित व्यक्ति को वोट देगें। जो वादा नहीं बल्कि गाँव का विकास करे। जिससे गाँव की बदहाली के बादल छट सके।

लोगों ने क्या कहाः

गाँव बंजारा डेरा निवासिनी कुसुमा देवी ने बेबाक बोलते हुए कहा कि इस चुनाव में उसी प्रत्याशी को वोट देंगे जो अच्छी छवि का हो गाँव का विकास कराये। गाँव निवासी बन्दना ने कहा कि गाँव कई साल से बदहाल है जो गाँव मे सड़कें बनवायेगा और सुख दुःख में साथ देगा उसे ही हम लोग चुनेंगे। मिथलेश कुमारी ने कहा कि इस वार उसी को वोट करेंगे जो गाँव की जल निकासी की व्यवस्था कराएगा और गाँव को स्वच्छ रखेगा। गाँव निवासी सुधा देवी ने बताया कि इस वार उसी प्रत्याशी को वोट देंगे जो गांव में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था कराएं तथा गांव की साफ सफाई पर विशेष ध्यान दें।

पानी निकासी की व्यवस्था न होने पर लगाई कट्टियाः

डेरा बंजारा में घरों के गंदे पानी की निकासी की व्यवस्था नहीं है। गंदा पानी सड़कों पर भरा रहता है। जिससे दुर्गन्ध उड़ती है। ग्रामीण गंदे पानी के लिए नाली में कट्टिया लगा देते हैं जिससे गंदा पानी कट्टिया में भर जाए और उसे ले जाकर दूर फेकते हैं।

चौपाल में हुई प्रधानी की चर्चाः

राजस्व गाँव करही में लोग चौपाल लगाकर गाँव में चुनाव की चर्चाएं कर रहे हैं गाँव का हाल जानने निकले न्यूज ट्रेक के संवाददाता को ग्रामीणों ने बताया कि इस वार उसी प्रत्याशी को चुनेंगे जो शिक्षित हो, गांव का सर्वागीण विकास कराएं तथा गांव की समस्याएं को दूर करें। गांव को चमकाने के लिए कोई कोर कसर न छोड़ें व जर्जर पड़ी सड़कों को बनवाए तथा गांव की स्वच्छता के लिए भरपूर प्रयास करे।

Shweta

Shweta

Next Story