Top

Bulandshahar News: भीषण बारिश के कारण गंगा का बढ़ा जलस्तर, प्रशासन ने लोगों को किया अलर्ट

लगातार मुसलाधार बारिश होने से बुलंदशहर में गंगा का जल स्तर खतरे की निशान से उपर बढ़ रहा है।प्रशासन ने लोगों को अलर्ट कर दिया है

Sandip Tayal

Sandip TayalReport Sandip TayalDeepakPublished By Deepak

Published on 22 July 2021 6:03 PM GMT

Ganga river flow above the danger point
X

खतरे की निशान से उपर बहती गंगा नदी

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

BulandShahar News: पहाड़ी व मैदानी क्षेत्र में हो रही मूसलाधार बारिश के चलते बुलंदशहर की छोटी कांशी में गंगा का जलस्तर में निरंतर बढ़ता जा रहा है। गंगा का जल स्तर बढ़ने से प्रशासन ने अलर्ट जारी कर गंगा किनारे अस्थायी दुकानें लगाने वाले दुकानदारों से गंगा किनारे दुकानें न लगने की अपील की है। फिलहाल घाट डूब गए है लगभग 5-6 फीट गंगा का जल स्तर बढ़ा है। पहाड़ी इलाको में नाले फटने , विगत 2 दिन हुई मूसलाधार व रिमझिम बारिश से अनूपशहर गंगा का जलस्तर में लगभग 5-6 फीट की वृद्धि हुई है, जिससे गंगा उफान पर है।


घाट किनारे बने मंदिरों तक गंगा का पानी पहुँच गया है


गंगा नदी का पानी मंदिर में घुसा


जहान्वी घाट सहित अनूपशहर गंगा के घाट जलमग्न हो गए है, घाट किनारे बने मंदिरों तक गंगा का पानी पहुँच गया है। गंगा स्नान करने वाले श्रद्धालु बाढ़ के पानी में होकर स्नान घाट पर पहुंच रहे हैं। गंगा के मध्य निकले विशाल टापू भी पूरी तरह से जलमग्न हो गये है। गंगा के जलस्तर में लगातार वृद्धि की संभावनाओ के चलते प्रशासन द्वारा गंगा किनारे बसे गांव के लेखपालों को भी सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। तहसील क्षेत्र के लगभग एक दर्जन गांव गंगा किनारे बसे होने के कारण बाढ़ से प्रभावित होने का खतरा बना रहता है।

बाढ़ को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड़ में है

बाढ़ को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड़ में है। बाढ़ की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने अलर्ट जारी कर संबंधित लेखपालों को जल स्तर पर निगाह रखने व समय रहते बचाव कार्य के निर्देश दिए हैं। बता दे कि विगत वर्षों में भी गंगा का जलस्तर बढ़ने से गंगा किनारे बसे दर्जनों गांव जलमग्न हो जाते हैं, किसानों की फसलें जलमग्न हो जाती हैं, ग्रामीणों व किसानों को बाढ़ के हालातों का सामना करना पड़ता है।

Deepak

Deepak

Next Story