×

Bulandshahr News: बच्चियों को स्कूल में किताब की जगह दे दी गई झाड़ू, देखें गेसूपुर प्राथमिक विद्यालय का वीडियो

ताजा मामला ऊंचा गांव ब्लॉक के गेसूपुर प्राथमिक विद्यालय का सामने आया है, जहां वायरल वीडियो में सरकारी स्कूल पढ़ने के लिए पहुंची बेटियों के हाथों में झाड़ू देकर क्लास रूम की सफाई कराई जा रही है।

Sandip Tayal
Updated on: 8 Oct 2021 5:15 PM GMT
Bulandshahr News: बच्चियों को स्कूल में किताब की जगह दे दी गई झाड़ू, देखें गेसूपुर प्राथमिक विद्यालय का वीडियो
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Bulandshahr News: पढ़ेंगी बेटियां - बढ़ेंगी बेटियां, जैसे स्लोगन को तैयार करने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार भले ही अरबों रुपया व्यय कर रही हो, मगर लगता है बुलंदशहर के कुछ परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक सरकार की मंशा पर पानी फेरने में जुटे हैं। एक के बाद एक स्कूलों में बेटियों से झाड़ू लगवाने, तो कहीं बेटियों से रसोइयों में रोटियां बनवाने के वीडियो वायरल हो रहे हैं। इसके अलावा कहीं बच्चों के बौद्धिक विकास को मिलने वाले दूध में खुलेआम पानी मिलाए जाने के वीडियो भी वायरल हो रहे हैं। ताजा मामला ऊंचा गांव ब्लॉक के गेसूपुर प्राथमिक विद्यालय का सामने आया है, जहां वायरल वीडियो में सरकारी स्कूल पढ़ने के लिए पहुंची बेटियों के हाथों में झाड़ू देकर क्लास रूम की सफाई कराई जा रही है। हालांकि मामले को गंभीरता से लेते हुए स्याना के एसडीएम ने जांच कर कार्यवाही करने का दावा किया है।

क्लास में झाड़ू लगाती छात्राओं के वीडियो से हड़कंप

बुलंदशहर जनपद के ऊंचा गांव ब्लॉक में स्थित गेसूपुर के प्राथमिक विद्यालय का एक वीडियो आज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वायरल वीडियो में दो छात्राएं एक क्लास रूम में झाड़ू लगाकर सफाई करते नजर आ रही हैं। मासूम छात्राओं द्वारा सफाई किए जाने का वीडियो वायरल होने से शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा है।

स्कूल में झाड़ू लगवाने से ग्रामीणों-अभिभावकों में रोष

परिषदीय विद्यालय में झाड़ू लगाती बेटियों का वीडियो देखने के बाद ग्रामीणों में परिजनों में रोष व्याप्त है ग्रामीणों और परिजनों का दावा है कि बेटियों को स्कूल में पढ़ने के लिए भेजा जाता है मगर यदि वहां के शिक्षक शिक्षिकाएं छात्राओं से सफाई कराएंगे तो फिर स्कूल भेजने का क्या औचित्य है। ग्रामीणों व छात्राओं के अभिभावकों का कहना है कि ऐसे कैसे पढ़ेंगे बेटियां ,जब विद्यालय में छात्राओं को पढ़ाने की जगह सफाई कराई जाएगी। उन्होंने मुख्यमंत्री आदित्य नाथ योगी से विद्यालयो में अलग से सफाई कर्मचारी रखने की भी मांग उठाई है और सरकारी स्कूल में गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्रदान कराने तथा स्कूल में बच्चों से झाड़ू लगवाने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई करने की भी मांग की है।

छात्राओं से रोटियां बनवाने दूध में पानी मिलाने का वीडियो हुआ था वायरल

बता दें कि कुछ दिन पूर्व बुलंदशहर जनपद के लखावटी ब्लॉक के भावसी स्थित संविलियन प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालय का वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें रसोइया जहां सरकारी स्कूल की रसोई में बच्चो को मिड डे मिल के दौरान देने को लाये गये ढाई लीटर दूध में 1 बाल्टी पानी मिलाती दिख रही थी तो स्कूल की रसोई में स्कूल पढ़ने आयी छात्राओं से रोटियां भी बनवायी जा रही है। हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद भी बीएसए अखंड प्रताप सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रभारी प्रधानाध्यापक सहित स्कूल के शिक्षकों के रसोइयों पर सख्त कार्रवाई की थी।

SDM बोले...ABSA को सौपी है जांच


स्याना के नवागत एसडीएम विनीत उपाध्याय ने बताया कि गेसूपुर के प्राथमिक विद्यालय का वीडियो बताया जा रहा है जिसमें दो छात्राएं क्लास रूम में झाड़ू लगाती दिख रही है मामले की जांच करने के खंड शिक्षा अधिकारी को सख्त निर्देश दिए गए हैं खंड शिक्षा अधिकारी की जांच रिपोर्ट के आधार पर अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।

Next Story