×

Meerut News: सूदखोर से त्रस्त शख्स जहर खाकर पहुंचा एसएसपी ऑफिस, इलाज के दौरान हुई मौत

Meerut News: उत्तर प्रदेश के मेरठ में सूदखोर से परेशान एक व्यक्ति सल्फास खाकर एसएसपी आफिस पहुंच गया।

Sushil Kumar

Sushil KumarReport Sushil KumarDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 27 July 2021 3:44 PM GMT

Meerut News
X

शव  (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Meerut News: उत्तर प्रदेश के मेरठ में सूदखोर से परेशान एक व्यक्ति सल्फास खाकर एसएसपी आफिस पहुंच गया। पीड़ित के जहर खाने की जानकारी लगते ही एसएसपी ऑफिस में खलबली मच गई। उसे तुरंत इलाज के लिए मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया, जहां पर उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई।

मिली जानकारी के अनुसार मेडिकल थाना क्षेत्र के सराय काजी निवासी देवेंद्र सिंह ने भावनपुर थाना क्षेत्र के सूदखोर से दस साल पहले एक लाख रुपये ब्याज पर लिए थे। आरोप है कि सूदखोर ने 10 साल में ब्याज लगाकर 10 लाख रुपए कर दिए। रुपये न लौटाने पर उसका मकान गिरवी रख लिया, बताया कि वह सूदखोर को दो लाख रुपए दे भी चुका था।
इसके बावजूद सूदखोर उसके मकान के कागज देने को तैयार नहीं है, जिससे परेशान होकर देवेंद्र ने मंगलवार को दोपहर एसएसपी ऑफिस पर पहुंच कर सल्फास खा लिया। हालत गंभीर होने पर पुलिस ने उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
पुलिस मामले की छानबीन करने में लगी है। बताया गया कि जहरीले पदार्थ का सेवन करने से पहले एसपी ट्रैफिक जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने उसकी समस्या सुनी थी। एसपी ट्रैफिक और एसपी क्राइम द्वारा युवक से वार्ता के उपरांत उसे जिला चिकित्सालय भेज दिया गया था। जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई।
एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि देवेंद्र सिंह नाम का व्यक्ति घर से जहर खाकर एसएसपी आफिस आया था।। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों द्वारा उसे तुरंत इलाज के लिए मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया, जहां पर उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई। एसएसपी के अनुसार घटना के संबंध में आरोपी सूदखोर के खिलाफ थाना मेडिकल में मुकदमा दर्ज करा जा रहा है।
बता दें कि इससे पहले भी अलग-अलग जगहों से कई ऐसी घटनाएं सामने आई हैं जिसमें लोग परेशान होकर सरकारी दफ्तर पर पहुंच आत्महत्या की कोशिश की है।







Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story