×

Meerut News: मेरठ में क्षमता से कम गन्ना इंडेंट जारी कर रहीं मिलें, रालोद ने दी गन्ना भवन का घेराव करने की चेतावनी

Meerut News: मेरठ में ज्यादातर मिलें अपनी पेराई क्षमता (crushing capacity) अनुसार गन्ना खरीद नहीं कर रही है। किसानों को समय से पर्ची नहीं मिलने से किसान परेशान (sugarcane farmer upset) है।

Sushil Kumar
Published on 26 Dec 2021 4:46 PM GMT
Meerut News: Mills issuing sugarcane indents less than capacity in Meerut, RLD warns to siege sugarcane building
X

मेरठ: चीनी मिल: photo - social media  

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Meerut News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ जनपद (Meerut District) की चीनी मिलों को पेराई सत्र (sugar mills crushing session) शुरू किए एक महीने से ज्यादा हो चुका है, लेकिन ज्यादातर मिलें अपनी पेराई क्षमता (crushing capacity) अनुसार गन्ना खरीद नहीं कर रही है। किसानों को समय से पर्ची नहीं मिलने से किसान परेशान (sugarcane farmer upset) है। किसानों के सामने गेहूं की बुवाई की चुनौती भी रहेगी। रालोद (RLD) ने भरपूर इंडेंट जारी नहीं करने पर गन्ना भवन का घेराव (Siege of sugarcane building) करने की चेतावनी दी है।

मिल अधिकारी किसानों को आपस में लड़ाना चहाते हैं

मीठेपुर, अंदावली, देदवा, अझौता, लावड़ खास और लावड़ गांव के किसानों ने गन्ना मिल और समिति पर मिलीभगत का आरोप लगाया। किसानों का कहना है कि उन्हें कम इंडेंट जारी हो रहा है। वहीं केंद्र कर्मचारियों पर घटतौली का भी आरोप लगाया। किसानों का कहना था कि मिल अधिकारी किसानों को आपस में लड़ाना चहाते हैं। किसानों को एक-दूसरे के गांव में अधिक इंडेंट जारी होने की झूठ बात कहकर उकसाते हैं। किसानों ने कहा कि इंडेंट कम जारी होने से गेहूं की बुआई में देरी होगी।

उधर,दौराला शुगर मिल के कस्तला क्रय केंद्र पर शुगर मिल द्वारा किसानों को कम इंडेंट भेजने के विरोध में ग्रामीणों ने तीन दिन के लिए क्रय केंद्र पर तौल बंद कर रखी है। किसानों की माने तो सोमवार को गन्ना भवन पर डीसीओ का घेराव कर शुगर मिल के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए किसान लामबंद होंगे।

किसान चिंतित

कई किसानों ने बताया कि वह विगत शनिवार को शुगर मिल द्वारा कम पर्ची को लेकर शुगर मिल अधिकारियों से मिले लेकिन संतोषजनक जवाब न मिलने पर किसान वापस लौट आए और सभी बांड धारको ने गांव में पंचायत कर सोमवार को गन्ना भवन पर डीसीओ कार्यालय पर प्रदर्शन करने की रणनीति बनाई। किसानों का आरोप है कि उनके खेतों में गन्ने की फसल न कटने की वजह से गेहूं की फसल की बुवाई नहीं हो पा रही है जिसको लेकर किसान चिंतित है लेकिन किसानों की समस्या जस की तस बनी है।

राष्ट्रीय लोकदल ने दी आंदोलन की धमकी

इस मामले में भारतीय किसान यूनियन के साथ ही राष्ट्रीय लोकदल ने किसानों की समस्याओं का समाधान नही होने पर आंदोलन की धमकी दी है। रालोद के प्रदेश संगठन प्रभारी डॉ. राजकुमार सांगवान ने कहा कि शुगर मिलों द्वारा पेराई क्षमता अनुसार गन्ना खरीद नहीं किए जाने से किसान परेशान हैं। अगर चीनी मिलों ने गन्ना इंडेंट बढ़ाकर खरीद शुरू नहीं की तो रालोद गन्ना भवन का घेराव करेगा।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2021, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2021

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story