×

देवबंदः दारुल उलूम मदरसे को बंद करने की उठी मांग, क्रांति सेना ने किया प्रदर्शन

सहारनपुर जिले के कस्बा देवबंद का नाम बदलकर देव वृंद करने एवं दारुल उलूम मदरसे को बंद करने की मांग करते हुए क्रांति सेना ने शहर के शिव मूर्ति पर प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी भी की।

Pankaj Prajapati

Pankaj PrajapatiReport Pankaj PrajapatiAshikiPublished By Ashiki

Published on 2 Sep 2021 12:02 PM GMT

Kranti Sena demonstrated
X

क्रांति सेना ने किया प्रदर्शन

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Shamli: सहारनपुर जिले के कस्बा देवबंद का नाम बदलकर देव वृंद करने एवं दारुल उलूम मदरसे को बंद करने की मांग करते हुए क्रांति सेना ने शहर के शिव मूर्ति पर प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी भी की, जिसके उपरांत क्रांति सेना ने मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन एसडीएम को सौंपा है।

गुरुवार को शहर के शिव मूर्ति पर क्रांति सेना के पदाधिकारियों सहित दर्जनों कार्यकर्ता पहुंचे। जहां उन्होंने जिला सहारनपुर (Saharanpur) के कस्बे देवबंद का नाम देव वृदं करने एवं दारुल उलूम देवबंद के मदरसों पर कट्टरवाद की शिक्षा देने का आरोप लगाते हुए जमकर प्रदर्शन व नारेबाजी की। इस दौरान संगठन के प्रदेश महासचिव ने बताया कि आज क्रांति सेना के द्वारा मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन एसडीएम को सौंपा गया है, जिसमें मांग की गई है कि जिला सहारनपुर का कस्बा देवबंद का नाम बदलकर देववृंद किया जाए और देवबंद में दारुल उलूम नाम की एक संस्था है उसके मदरसों को बंद किया जाए, क्योंकि वहां के द्वारा देश में आतंकवादी फैलते हैं और आतंकवाद की विचारधारा को बढ़ावा देते हैं।


आगे उन्होंने कहा कि अक्सर दारुल उलूम मदरसे (Darul Uloom Deoband) से आतंकवादियों के समर्थन में बयान बाजी होती रहती है और दारुल उलूम मदरसा तालिबान की विचारधारा से भी प्रेरित है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा भी हमारे द्वारा मांग की गई है कि जिन मदरसों में तहखाने बने हुए हैं उन तह खानों को बंद किया जाए। क्योंकि शिक्षण संस्थानों में तहखानो का कोई औचित्य नहीं है और जो मदरसों को सरकार द्वारा जो सुविधाएं दी जा रही हैं वह भी बंद की जाए। इस दौरान क्रान्ति सेना के दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Ashiki

Ashiki

Next Story