×

Saharanpur News: Kisan Mahapanchayat, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, बॉर्डर पर रहेगी विशेष चौकसी

सहारनपुर मण्डल के मुजफ्फरनगर महापंचायत के लिए पुलिस ने सुरक्षा और कानून व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम कर लिए हैं।

Network

NetworkNewstrack NetworkRaghvendra Prasad MishraPublished By Raghvendra Prasad Mishra

Published on 4 Sep 2021 12:08 PM GMT

Security Arrangements
X

किसान महापंचायत से पहले सुरक्षा व्यवस्था को परखते पुलिस अधिकारी (फोटो-न्यूजट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Saharanpur News: किसान महापंचायत को लेकर प्रशासन सतर्क हो गया है। सहारनपुर मण्डल के मुजफ्फरनगर महापंचायत के लिए पुलिस ने सुरक्षा और कानून व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम कर लिए हैं, चूंकि सहारनपुर रेंज के शामली और सहारनपुर जनपद की सीमा हरियाणा से जुड़ी है, इसलिए बॉर्डर पर विशेष चौकसी बरती जाएगी। पांच सितंबर को मुजफ्फरनगर के राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान पर महापंचायत होनी है। बताया जा रहा है कि महापंचायत में हरियाणा और पंजाब के भी किसान बड़ी संख्या में पहुंच सकते हैं। मुजफ्फरनगर जिले के अलावा सहारनपुर से पुलिस भेजी गयी है, जबकि जोन स्तर से भी पुलिस अधिकारियों को भेजा गया है। पीएसी के जवानों की तैनाती की गई है। हरियाणा, पंजाब के बॉर्डर पर तैनाती के अलावा रेलवे स्टेशनों पर चौकसी बरती जाएगी

एसएसपी डॉ. एस. चनप्पा ने जानकारी देते हुए बताया कि सभी किसान लोगों से बातचीत की गई है। समुचित पुलिस कर्मचारियों को लगाया गया है। ट्रैफिक व्यवस्था सुचारू रूप से चालू रहने के लिए व्यवस्था की गई है। किसी राहगीर को दिक्कत न हो इसके लिए सहारनपुर पुलिस ने व्यवस्था की है। और शहर में कहीं जाम न लगे इसके लिए भी समुचित पर्याप्त में ट्रैफिक पुलिस लगा दिए गए हैं। बॉर्डर पर भी पुलिस लगाए गए हैं। सभी अफसर की वहां ड्यूटी लगाई गई है।

एसएसपी ने बताया कि वहां हमारी ड्यूटी रहेगी। पूरी सतर्कता बरती जा रही है। इसके अलावा हमारी थाना नागल क्षेत्र के कई किसानों से बात हुई है सभी को व्यवस्था बनाए रहने के लिए कहा गया है। बता दें कि बीते दिनों हरियाणा में प्रदर्शनकारी किसानों और पुलिस में झड़प हो गई थी, जिसमें कई किसान घायल भी हुए थे। किसान महापंचायत को देखते हुए प्रशासन पूरी तरह से सतर्क है। प्रशासन की पूरी कोशिश है कि शांतिपूर्ण तरीके से महापंचायत को संपन्न करा लिया जाए। किसानों की भीड़ का अंदाजा लगाकर उसी हिसाब से ट्रैफिक आदि की व्यवस्था की जा रही है, जिससे किसी को कोई दिक्कत न होने पाए।

रिपोर्ट- नीना जैन

Baghpat News: महापंचायत से पहले जाटलैंड बागपत में किसानों से आह्वान

Baghpat News: उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में आज हरियाणा के चौधरी और बागपत के देश खाप चौधरी ने राकेश टिकैत के भांजे राजेन्द्र सिंह से उनके आवास पर मुलाकात की और कल मुजफ्फरनगर जनपद में होने वाली महापंचायत को सफल बनाने का आवाहन किया गया।

बता दे कि दोघट थाना क्षेत्र अंतर्गत कस्बे में आज हरियाणा से चौधरी टेक राम कंडेला राष्ट्रीय संयोजक सर्व जातीय खाप पंचायत और देशखाप 84 चौधरी सुरेन्द्र सिंह दोघट कस्बे में राजेन्द्र सिंह के आवास पर पहुँचे और कल मुजफ्फरनगर में होने वाली महापंचायत को सफल बनाने का आवाहन किया। पंचायत में पहुंचने को लेकर वाहनों से संबंधित चर्चा की गयी। चौधरी टेक राम ने बताया कि हरियाणा के सभी 22 जनपदों में बड़े गांव में 10 गाड़िया और छोटे गावों में 5 गाड़ियों की व्यवस्था है। इसके अलावा हरियाणा से लगे उत्तर प्रदेश के गांवों से ट्रैक्टरों की मदद से भारी संख्या में किसान मुजफरनगर पहुंचेंगे और पंचायत में शामिल होंगे।

बागपत से भी किसानों ने मुजफ्फरनगर पहुंचने को लेकर बस ट्रैक्टर और कार आदि की व्यवस्था कर ली है। किसानों का कहना है कि आज तक कि भारत मे हुई पंचायतों में ये सबसे बड़ी महापंचायत होगी, जिसमें किसानों की कोई संख्या नहीं होगी बल्कि एक बड़ी भीड़ किसानों की पंचायत में पहुंचेगी। किसानों ने राशन की व्यवस्था भी की हुई है और जगह जगह किसानों के लिए भण्डारों का आयोजन भी किया जा रहा है।

उत्तर प्रदेश के मुजफरनगर के जो कस्बा है यहां पर पहुंचे हैं। हरियाणा से खाप चौधरी भी हमारे साथ पहुंच चुके हैं। उन्होंने कहा, किसान मोर्चा जो भी फैसला लेगा खाप पंचायतें पूरी तरह से समर्थन करेंगी। 9/10 महीने से जो बात केंद्र सरकार कर रही है, किसानों की मांगों को माने और तीनों कानूनों को रद्द करे। MSP पर गारंटी कानून बनाये इसके लिए किसानों की जो पँचायत है देश की सबसे बड़ी पँचायत होगी। हरियाणा में हमने सभी 22 जिलों में हर गांव में बड़े गांव से 10 गाड़ी, कहीं 5, तो कहीं 2 गाड़ियों की वयवस्था की गई है। हरियाणा से जो लगते हुए गांव है उनमें ट्रैक्टरों से उत्तर प्रदेश के जो लोग हमें बता रहे हैं यहां से भरी भीड़ ट्रैक्टरों में उमड़ेगी और ये हिन्दुतान के किसानों की सबसे बड़ी पंचायत होगी।

रिपोर्ट- पारस जैन

muzaffarnagar news: किसान महापंचायत में शामिल होने के लिए किसानों का आना शुरू


muzaffarnagar news: किसान आंदोलन के बीच पश्चिम उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 5 सितंबर को किसान महापंचायत होने जा रही है। महापंचायत में हरियाणा पंजाब व राजस्थान के किसानों का यूपी हरियाणा बॉर्डर से आना शुरू हो गया है। वहीं यूपी हरियाणा बॉर्डर पर पुलिस की ओर से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई।

युक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर मुजफ्फरनगर के जीआईसी मैदान में किसान महापंचायत होने जा रही है। भारतीय किसान यूनियन सहित अन्य संगठनों के लोग किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए लगे हुए हैं। वही किसान महापंचायत से 1 दिन पहले कैराना स्थित यूपी हरियाणा बॉर्डर पर हरियाणा राजस्थान पंजाब के किसानों का जत्था आना शुरू हो गया है। किसान अपने निजी वाहनों व किराए के वाहनों से मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए पहुंच रहे हैं।

हरियाणा से पहुंचने वाले किसानों का कहना है कि मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत ऐतिहासिक होगी। किसान अबकी बार भाजपा सरकार को सबक सिखाने का काम करेंगे। उत्तर प्रदेश के किसान व भाकियू के पदाधिकारी जगह-जगह अन्य प्रदेशों से आने वाले किसानों के लिए भंडारे चला रहे हैं तथा किसानों का स्वागत की तैयारी में लगे हुए हैं। वही महापंचायत में हरियाणा पंजाब राजस्थान के किसानों के भारी संख्या में आने को लेकर यूपी हरियाणा बॉर्डर पर पुलिस व पीएसी के जवान तैनात किए गए हैं। इसके साथ ही सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं, ताकि हर गतिविधि पर नजर रखी जा सकें।

मेरा नाम रविंद्र है हिसार जिले के गांव के शाहपुर गांव से आया हूं जो पिछले 9 महीने से हमारा आंदोलन चल रहा है और सरकार हमारी बात नहीं मान रही है कल मुजफ्फरनगर में किसानों की पंचायत है और रणनीति है वह तो संयुक्त मोर्चा है वही बताएगा कि क्या रणनीति आगे की बनाई है और पूरे देश से लोग यहां पर इकट्ठा हो रहे हैं। करनाल में जो किसानों पर लाठियां चलवाई खट्टर सरकार ने वह बहुत गलत किया।

रिपोर्ट- पंकज प्रजापति

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story