Top

यूपी में फिर Love Jihad: नाबालिग को प्रेमजाल में फंसाने के ल‍िए आस‍िफ बना आशीष, नाम बदलकर रह रहा था लिव इन में

संभल में एक ऐसा मामला आया है, जिसमें युवक ने अपना नाम आसिफ कुरैशी की जगह आशीष बताकर नाबालिग के साथ लिव इन में रह रहा था।

Saddam Hussain

Saddam HussainWritten By Saddam HussainAshiki PatelPublished By Ashiki Patel

Published on 20 July 2021 1:23 PM GMT

sambhal love jihad
X

लव जिहाद (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

संभल: यूपी के संभल जिले में लव जिहाद मामले का बड़ा खुलासा हुआ है। जिले के चन्दौसी में एक ऐसा मामला आया है, जिसमें एक युवक ने अपना नाम आसिफ कुरैशी की जगह आशीष बताकर नाबालिग के साथ लिव इन में रह रहा था। बताया जा रहा है कि आरोपी युवक, युवती को बहला-फुसला कर अपने साथ राजस्थान के जयपुर लेकर चला गया था। जहां पर दोनों साथ रह रहे थे।

जयपुर से दोनों को बरामद किया गया है। चन्दौसी का आसिफ कुरैशी जयपुर में आशीष कुमार बनकर युवती के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रहा था। गिरफ्तार आरोपी के पास से लिव इन रिलेशनशिप का इकरार नामा भी बरामद हुआ है। बरामद इकरार नामे में आसिफ क़ुरैशी ने अपना आशीष दर्ज कराया था। बता दें कि युवती के परिजनों ने आरोपी आसिफ कुरैशी के खिलाफ युवती के अपहरण का केस चन्दौसी कोतवाली दर्ज कराया था।

मामला 7 जुलाई का है। आरोप है की 07 जुलाई मंगलवार को हिंदू समाज की एक नाबालिक लड़की को दूसरे समुदाय का युवक उसको बहला फुसलाकर कहीं ले गया है। नाबालिक का पीड़ित परिवार चार दिनों से अपनी FIR दर्ज कराने को कोतवाली का चक्कर काट रहा था। जब पीड़ित की FIR दर्ज नहीं हो रही थी तब हिंदू जागरण मंच संगठन को पीड़ित के साथ थाने में इकट्ठा होना पड़ा, जिसके बाद पीड़ित परिवार की FIR दर्ज की गयी और नाबालिक का धर्मांतरण होने से पहले बरामदगी कर ली गयी।

चन्दौसी पुलिस ने पीड़ित की तहरीर के आधार पर नाबालिग के अपहरण का मुकदमा करीब चार दिन बाद दर्ज किया और युवती की तलाश करने के लिए दो टीमें बनाई गयीं। FIR होने के 10 दिनों बाद पुलिस को टीम सर्विलांस द्वारा पता चला की आरोपी युवती के साथ जयपुर में रह रहा है। तुरंत पुलिस एक्शन में आई और जयपुर में किराये के माकन में रह रहे आरोपी को दबोच लिया, जिसके पास से पुलिस को युवती सहित इकरारनामे की कॉपी मिली, जिसमे आसिफ कुरैशी ने अपना नाम आशीष कुमार लिखवा रखा था। पुलिस ने युवती को बरामद कर परिजनों को सौंप दिया और आरोपी आशिफ कुरैशी को जेल भेज दिया है।

Ashiki

Ashiki

Next Story