×

Shamli News: पगड़ी पर पंचायत, अमान्य घोषित हुई हसनपुर में थामेदार की पगड़ी

Shamli News: रिटायर्ड पुलिसकर्मी महिपाल सिंह को हसनपुर गांव के थामेदार बनाए जाने की पगड़ी पहनाई गई थी पगड़ी की रस्म अदा होते ही उसी समय उसका पुरजोर विरोध होना भी शुरू हो गया था।

Pankaj Prajapati

Report Pankaj PrajapatiPublished By Shashi kant gautam

Published on 21 Nov 2021 3:50 PM GMT

Shamli News: Panchayat on Pangdi, the turban of Thamedar in Hasanpur declared invalid
X

शामली: पंगड़ी पर पंचायत

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Shamli News: शामली जनपद (Shamli District) की सदर कोतवाली क्षेत्र (Sadar Kotwali area) के गांव हसनपुर (Village Hasanpur) में आज गठवाला खाप (Gathwala Khap) के 11 गाव के चौधरियों की एक पंचायत हुई। जिसमें गठवाला खाप चौधरी और 11 गांव के जिम्मेदार लोगों ने हिस्सा लिया । पंचायत में कुछ दिनों पहले हसनपुर में पंचायत द्वारा रिटायर्ड पुलिसकर्मी (retired policeman) को थामेदार की पगड़ी पहनाए जाने के फैसले का पुरजोर विरोध हुआ और समाज और गठवाला खाप के स्तर से उस पगडी को अमान्य घोषित कर दिया गया।

आपको बता दें कि जिले के गांव हसनपुर (Village Hasanpur) में कुछ दिनों पहले थामेदार की पंगड़ी को लेकर एक पंचायत की थी। जिसमें रिटायर्ड पुलिसकर्मी महिपाल सिंह को हसनपुर गांव के थामेदार बनाए जाने की पगड़ी पहनाई गई थी पगड़ी की रस्म अदा होते ही उसी समय उसका पुरजोर विरोध होना भी शुरू हो गया था।

गठवाला खाप चौधरी राजेंद्र मलिक बाबा ने की अध्यक्षता

जिसको लेकर गठवाला खाप चौधरी (Gathwala Khap Choudhary) ने इस तरह की रस्म पगड़ी को समाज में आतंकवाद फैलाने और समाज को तोड़ने का आरोप लगाते हुए अमान्य घोषित कर दिया था लेकिन आज उसी मामले में लिसाड़ गांव (Lisad Village) के अंतर्गत आने वाले 11 गांव के जिम्मेदार लोगों ने गांव हसनपुर में ही एक पंचायत बुलाई जिसकी अध्यक्षता लोगों द्वारा गठवाला खाप चौधरी राजेंद्र मलिक बाबा (Gathwala Khap Chaudhary Rajendra Malik Baba) को सौंपी गयी। जहां पंचायत में कुछ दिनों पहले हसनपुर में हुई पंचायत और उसमें बनाई गई पगड़ी का जमकर विरोध हुआ और लोगों ने बहिष्कार की मांग उठाई।



पंचायत के द्वारा पहनाई गई पगड़ी को अमान्य घोषित किया गया

पंचायत में 11 लोगों की कमेटी बनाकर निर्णय लिया गया कि हसनपुर में हुई पंचायत के द्वारा बनाई गई पगड़ी को अमान्य घोषित किया जाता है और ढाई सौ साल पहले से भी कोई हसनपुर में थामेंदार की पंगड़ी नहीं थी और ना ही आगे होगी वहीं उक्त मामले में ग्रामीणों का कहना है कि कुछ असामाजिक लोगों ने पहले पंचायत कर एक व्यक्ति को पगड़ी पहनाकर थामेदार बना दिया था जबकि हमारे गठवाला खाप में उस थामेदार का पद पहले से ही नहीं है अब पंचायत कर उस पगडी को अमान्य घोषित किया है और ना ही समाज में किसी तरीके का उसको पगड़ी का सम्मान दिया जाना चाहिए।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2021, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2021

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story