×

Shamli News: शामली में शराब का धंधा, न्यूजट्रैक पहुंचा पोल खोलने, आरोप कंपनी के पैसे से फर्राटा भरती हैं अधिकारियों की गाड़ियां

आपको बता दें मामला जनपद शामली के सदर कोतवाली क्षेत्र के अग्रसेन पार्क के सामने शराब की दुकान का है जहां सेल्समैन ने सभी अधिकारियों की पोल खोलते हुए कहा कि ऊपर से नीचे तक सभी अधिकारियों के पास पैसे जाते हैं।

Pankaj Prajapati

Pankaj PrajapatiWritten By Pankaj PrajapatiDivyanshu RaoPublished By Divyanshu Rao

Published on 23 Nov 2021 5:29 PM GMT

X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Shamli Crime News: चड्ढा कंपनी के नाम पर शामली में शराब की बोतलों पर ओवररेट (liquor bottles over rate) का खेल जग जाहिर है। सेल्समैन की वीडियो वायरल हुई है, सेल्समैन आबकारी अधिकारियों (excise officers) व पुलिस (Police) पर खुलेआम आरोप लगा रहा है कि चड्ढा कंपनी के पैसे से ही आबकारी अधिकारियों की गाड़ियां फर्राटा भरती है। शामली जनपद के नीचे से ऊपर तक सभी अधिकारियों पर लगाये गंभीर आरोप। सभी अधिकारियों के पास जाता है पैसा। सेल्समैन ने ऊपर से नीचे तक सभी अधिकारियों का पैसे देने का किया खुलासा।

आपको बता दें मामला जनपद शामली के सदर कोतवाली क्षेत्र के अग्रसेन पार्क के सामने शराब की दुकान का है जहां सेल्समैन ने सभी अधिकारियों की पोल खोलते हुए कहा कि ऊपर से नीचे तक सभी अधिकारियों के पास पैसे जाते हैं। इसीलिए मैं शराब की बोतलों पर ओवर रेट ले रहा हूं। चड्ढा कंपनी द्वारा प्राइवेट ठेको पर ओवर रेटिंग हो रही है 140 का क्वार्टर डेढ़ सौ रुपये में बेचा जा रहा है, जब ग्राहक ने 140 की जगह डेढ़ सौ रुपये क्यों ले रहे हो यह सवाल किया तो सेल्समैन ने चौंकाने वाला खुलासा किया। उसने बताया कि आबकारी विभाग के खर्चे यहीं से पूरे होते हैं यहां कोई बचा नहीं, चाहे डीएम से लेकर आबकारी विभाग के इंस्पेक्टर क्यों न हों, सब को यहाँ से पैसे जाते हैं।

चौंकाने वाली बात तो यह है कि जिस रास्ते से शराब आती है, उन पर पड़ने वाली चौकी अभी पैसे लेती है और आबकारी विभाग की गाड़ियों में जो तेल भरा जाता है वह भी चड्ढा ग्रुप की मेहरबानी है यह आरोप अंग्रेजी शराब की दुकान के सेल्समैन ने जनपद शामली के तमाम अधिकारियों पर लगाया है जिसमें वीडियो बनाने वाले व ओवर रेटिंग के नाम पर ग्राहकों से पैसे वसूलने वाले सेल्समैन के खिलाफ भी थाने में मुकदमा दर्ज कराकर कार्रवाई की बात डीईओ आबकारी विभाग के अधिकारी कंवरपाल सिंह कह रहे हैं।

डीईओ आबकारी विभाग के अधिकारी कंवरपाल सिंह का कहना है कि वह जो वीडियो है वह हमने भी देखी है वह जनपद शामली की नहीं है। ना ही हमारी किसी दुकान की है। ना ही हमारी सेल्समैन की है। किस उद्देश्य से यह वीडियो बनाई गई है, वही जानता है। उस व्यक्ति को काफी तलाशा जा रहा है, उसका एक वीडियो किसी के माध्यम से मेरे पास है। जिसमें उसने कबूलनामा किया है यह जो मैंने बातें कही है वह मुझसे कहलवाई गई है। ना ही वह हमारा सेल्समैन है। इस तरह की के वीडियो पहली बार आई है। एक वीडियो 3 महीने पहले आई थी वह बताया गया था उसमें कुछ दिन पुरानी है जिसमें अगर कोई शिकायत करता है तो हम उस पर कार्रवाई करते हैं। हमने पहले भी तीन लोगों को जेल भेजा है और रेट की शिकायत पर ही और उन दुकानों पर 75-75 हजार रुपए का जुर्माना किया गया है। हमने उस दुकान को जांच कराई लेकिन वह दुकान नहीं है। वह काका नगर में रहता है और इस समय वह दिल्ली के हॉस्पिटल में एडमिट है और वह मिला नहीं है। यह वीडियो बहुत पुरानी नहीं है ज्यादा पुरानी नहीं है।

वीडियो बनाने वाला मुजफ्फरनगर का कोई पत्रकार है। जेल से छूट गया था उसने यह वीडियो बनाई है। वर्तमान में कोई सेल्समैन नहीं है। यह बिल्कुल झूठ है। इसमें कोई सच्चाई नहीं है। हमारे यहां 2 गाड़ियां हैं जो संविदा पर है एक गाड़ी है उसका पैसा ऊपर सरकार से आता है और 3 महीने से कोई बजट नहीं आया अब आएगा तो पेमेंट क्लीयर कर दिया जाएगा। उन्होंने जिलाधिकारी पर आरोप लगाए हैं, इसी के आधार पर उस पर f.i.r. कराई जा रही है।

जब हमने अंग्रेजी शराब की दुकान के बराबर में होटल के कर्मचारी से सेल्समैन का फोटो दिखा कर बात की तो उन्होंने कहा कि यह व्यक्ति तो बराबर ठेके पर काम करता था लेकिन अब 3 दिन से यह यहां नहीं है और हम लगभग 1 साल से इसको यहां पर देख रहे थे। इसके साथ क्या हुआ है यह हमें नहीं मालूम लेकिन 3 दिन से यह नहीं है।

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story