Top

संदिग्ध हालात में PCS अधिकारी की मौत, नौकरानी शक के घेरे में

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 22 April 2016 10:27 AM GMT

संदिग्ध हालात में PCS अधिकारी की मौत, नौकरानी शक के घेरे में
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शाहजहांपुर: शाहजहांपुर में पीसीएस अधिकारी की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया है। जिला विकलांग कल्याण अधिकारी रंजीत कुमार सोनकर की उनके ही घर पर संदिग्ध मौत हो गई। मृतक रंजीत जिला समाज कल्याण अधिकारी अर्चना सोनकर के पति थे।

पीसीएस अधिकारी की मौत मामले में घरेलू नौकरानी शक के दायरे में है। फ़िलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज जांच शुरू कर दी है।

नौकरानी ने ये बताया

-घटना थाना सदर बाजार क्षेत्र के ऑफिसर कॉलोनी की है।

मॉर्चरी के बाहर परिजन मॉर्चरी के बाहर परिजन

-जहां जिला विकलांग कल्याण अधिकारी रंजीत कुमार सोनकर अपनी नौकरानी के साथ घर पर थे।

-नौकरानी कंचन की मानें तो रंजीत के सीने में तेज दर्द उठा था।

-जब वो उन्हें लेकर रात में 12 बजे के करीब अस्पताल पहुंची तो डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

सीने में उठा था तेज दर्द

-नौकरानी कंचन ने बताया कि देर रात अधिकारी रंजीत सोनकर के सीने में तेज दर्द उठा। दर्द से वे तड़प रहे थे।

-उनके मुंह पर पानी डाले दवा दी लेकिन तकलीफ कम नहीं हुई।

-तब पड़ोसियों की मदद से उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मृत अधिकारी की पत्नी  मृत अधिकारी की पत्नी

शहर से बाहर थी पत्नी

इस संबंध में रंजीत कुमार की पत्नी अर्चना सोनकर जो वर्तमान में यहीं पर जिला समाज कल्याण अधिकारी हैं ने बताया कि वो सरकारी काम से लखनऊ गई हुईं थी। सिर्फ नौकरानी और अधिकारी ही घर पर थे।

पत्नी की गैर मौजूदगी में नौकरानी घर पर क्यों थी ?

सूत्रों की मानें तो नौकरानी सिर्फ दिन में काम करने आती थी। लेकिन रात में पत्नी की गैर मौजूदगी में उसका अधिकारी के घर पर होना बड़ा शक पैदा करता है।

क्या कहना है ईएमओ का ?

ईएमओ डॉ.वीके गंगवार का कहना है कि रात में एक महिला जिला विकलांग कल्याण अधिकारी को मृत अवस्था में लाई थी महिला बता रही थी कि उनके सीने में दर्द हो रहा है। फिलहाल शव को मॉर्चरी में रखवा दिया गया है।

पोस्टमार्टम से पता चलेगा मौत की वजह

सीओ सिटी विजय शंकर मिश्रा का कहना है कि रात में उन्हें सूचना मिली थी कि जिला विकलांग कल्याण अधिकारी की तबीयत खराब हो गई थी। उन्हें उनकी नौकरानी ने अस्पताल में भर्ती कराया था जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शव का पोस्टमार्टम होने के बाद ही साफ हो पाएगा कि मौत की वजह क्या थी।

जिलाधिकारी विजय किरन आनंद ने पोस्टमार्टम हाउस जाकर परिजनों से मुलाकात की। हालांकि अभी तक मृत अधिकारी के परिजनों ने पुलिस को इस मामलें में कोई तहरीर नहीं दी है।

Newstrack

Newstrack

Next Story