Top

VIDEO: जलकल ऑफिस में हुई तोड़-फोड़, बाबू को कीचड़ में गिरा कर पीटा

By

Published on 5 May 2016 9:36 AM GMT

VIDEO: जलकल ऑफिस में हुई तोड़-फोड़, बाबू को कीचड़ में गिरा कर पीटा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुरः गंदा पानी आने से परेशान पब्लिक का गुस्सा जलकल ऑफिस पर फूट पड़ा। लोगों ने जमकर तोड़-फोड़ की और बाबू को कीचड़ में गिरा कर मारा। नौबस्ता के आवास विकास हंसपुरम में एक महिने से गंदा पानी आ रहा है। इसकी शिकायत कई बार अधिकारियों से की गई लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। पब्लिक का गुस्सा देख वहां मौजूद अधिकारी जलकल ऑफिस से भाग गए।

क्या है मामला?

-नौबस्ता थाना क्षेत्र के आवास विकास हंसपुरम में जलकल विभाग का ऑफिस है।

-यहां पर लगी पानी की टंकी से 20 हजार घरों में पानी सप्लाई किया जाता है।

-एक महीने से पूरे क्षेत्र में पानी नहीं आ रहा है, आता भी है तो गंदा पानी।

यह भी पढ़ें...VIDEO:पुलिस लाइन में पानी की किल्‍लत,वूमेंस बोलीं-जलसंस्‍थान मुर्दाबाद

-क्षेत्र के सभी हैंडपंप ख़राब है, इसकी वजह से क्षेत्र में पानी की समस्या बनी हुई है।

-गर्मी और पानी की समस्या से लोगों का जीना मुहाल हो गया है।

-यूनिफार्म गंदी होने के कारण बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं।

-लोगों को पीने का पानी नहीं मिल रहा है, नहाने तक की समस्या बनी हुई है।

-लोग शिकायत लेकर कई बार जलकल ऑफिस में जा चुके हैं।

-अधिकारियों ने उदासीन रवैया अपना रखा है।

लोगों ने बाबू को पीटा

-लोगों की भीड़ जलकल ऑफिस पहुंची तो अधिकारी वहां से भाग गए।

-जलकल ऑफिस में बाबू सहदेव पाल मिले जो कंप्लेन नोट करते है।

-लोगों ने उनको पीटा और कीचड़ में डुबो दिया।

यह भी पढ़ें...सप्लाई का पानी गंदा आने से लोगों में आक्रोश,मटका फोड़ किया प्रदर्शन

-किसी तरह वह अपनी जान बचाकर वहां से भागे।

-इसके साथ ही वहां खड़े सरकारी वाहनों पर पथराव शुरू कर दिया।

-वहीं ऑफिस में रखी कुर्सी और मेज तोड़ दिए।

क्या कहती हैं महिलाएं?

-पानी की वजह से घरेलु काम नहीं कर पा रहे हैं।

-यहां अधिकारी कुछ भी काम नहीं करते हैं। सरकारी दामाद बने बैठे हैं।

-इनको जनता के लिए नियुक्त किया गया है लेकिन ये उनकी बात तो सुनते नहीं हैं।

-इनके पास अपनी शिकायत लेकर जाओ तो बदतमीजी से बात करते हैं।

-सुचना पर पहुंची पुलिस को देख तोड़ फोड़ कर रहे लोग फरार हो गए।

यह भी पढ़ें...पीने के पानी को तरस रहा बुंदेलखंड, बच्‍चों ने किताब की जगह थामा घड़ा

जलकल के बाबू सहदेव के मुताबिक क्षेत्र में पानी की समस्या थी। सभी अधिकारी तो भाग गए लेकिन मुझे पकड़ लिया और जमकर पिटाई कर दी।

Next Story