Top

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर नई याचिका, कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 25 April 2016 5:02 PM GMT

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर नई याचिका, कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बाराबंकी: श्री रामजन्म भूमि मंदिर निर्माण न्यास के नव नियुक्ति प्रदेश अध्यक्ष और बीजेपी नेता रंजीत बहादुर श्रीवास्तव ने सोमवार को बाराबंकी की सिविल कोर्ट में 25 तर्कों के दस्तावेजों के साथ अयोध्या में रामजन्म मंदिर निर्माण को लेकर एक याचिका दाखिल की है।

याचिका में क्या कहा गया है

-याचिकाकर्ता रंजीत बहादुर श्रीवास्तव ने दाखिल याचिका में दावा किया है कि विद्वानों, इतिहासकारों के मतानुसार अयोध्या महाराज मनु द्वारा बसाए गए कौशल देश की राजधानी थी।

-उसके बाद वहां के राजा दशरथ थे और उन्हीं के पुत्र राम और उनके सभी भाई भी वहां पैदा हुए थे। उनका नार भी वहीं गड़ा है।

-रंजीत ने बाल्मीकि रामायण और रामचरित मानस की प्राचीनता का उल्लेख करते हुए वर्णित तथ्यों के आधार पर कोर्ट में तर्क प्रस्तुत किए हैं।

यह भी पढ़ें ... रामलला की मूर्ति के ऊपर पक्का छत बनाने की मांग, HC में PIL दाखिल

याकूब मेमन की सुनवाई रात में तो इस फैसले में देरी क्यों

-याचिका कर्ता ने कोर्ट पर टिप्पणी करते हुए आरोप लगाया है कि कोर्ट याकूब मेनन जैसे लोगो की सुनवाई रात में कर सकती है तो इस फैसले में देरी क्यों हो रही है।

-फिलहाल कोर्ट ने याचिकाकर्ता की याचिका स्वीकार कर ली है।

-मुकदमे की पैरवी कर रहे वकील पुनीत मिश्रा का कहना है कि ये केस पहले से चल रहे दूसरे केसों से बिलकुल अलग है।

-जिसपर कोर्ट जल्द कार्यवाही करे।

Newstrack

Newstrack

Next Story