×

प्लास्टिक कारोबारी को गोदाम में घुसकर मारी गोली, हत्या के बाद लूटा कैश

aman

amanBy aman

Published on 7 Oct 2017 9:16 PM GMT

प्लास्टिक कारोबारी को गोदाम में घुसकर मारी गोली, हत्या के बाद लूटा कैश
X
प्लास्टिक कारोबारी को गोदाम में घुसकर मारी गोली, हत्या के बाद लूटा कैश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कानपुर: अज्ञात बदमाशों ने शनिवार (07 अक्टूबर) देर शाम प्लास्टिक कारोबारी के गोदाम में घुसकर उन्हें गोली मार दी। बदमाशों ने व्यापारी की हत्या कर कैश काउंटर में रखे कैश और उनके गले से सोने की चेन खींचकर भाग गए।

कारोबारी को जब हैलट अस्पताल ले जाया गया, तो डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद पुलिस व फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल का निरिक्षण किया। बताया जा रहा है कि वह जब गोदाम बंद कर घर के लिए निकालने वाले थे तभी बदमाशों ने उनपर हमला बोल दिया।

ऐसे दिया वारदात को अंजाम

जिले के किदवाई नगर में रहने वाले विमल गुप्ता का चमनगंज थाना क्षेत्र स्थित भन्नाना पुरवा में पाइप का गोदाम है। कृषि कार्यों में इस्तेमाल आने वाले पाइप के वो बड़े व्यापारी माने जाते रहे हैं। शनिवार देर शाम वह गोदाम बंद कर घर के लिए निकल रहे थे। तभी बदमाशों ने उन्हें दबोच लिया और लूट-पाट करने लगे। विरोध करने पर बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी, जिससे उनकी मौत हो गई।

ये बताया भतीजे ने

घटना के बाद विमल गुप्ता के भतीजे ने बताया, कि शनिवार शाम 6 बजे के करीब मैंने उनसे मोबाइल पर बात की थी। इसके बाद लगभग 7:30 बजे मेरा वकील ताऊ जी से मिलने फैक्ट्री पर गया था। जब उन्होंने फैक्ट्री के भीतर देखा तो वह फ़ौरन बाहर निकल आया। उसने मुझे बताया कि ताऊ जी को कुछ हो गया है। मेरे पूछने पर उन्होंने कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया। बस उन्होंने कहा कि तुम आ जाओ।

'हमारी किसी से दुश्मनी नहीं थी'

विमल गुप्ता के भतीजे ने बताया, कि 'ताऊजी का मोबाइल, गल्ले से कैश और उनके गले से सोने की चेन गायब है। देखने से लगता है कि उनकी लूट के बाद हत्या की गई है। हमारी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी।'

ये कहा एसपी ने

एसपी वेस्ट गौरव ग्रोवर के मुताबिक, 'हमें सूचना मिली थी कि व्यापारी विमल कुमार जुटा पर हमला हुआ है। उन्हें उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया है। वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया है। हमलोग घटना स्थल का निरीक्षण कर रहे हैं। परिजन जो भी तहरीर देंगे उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही पुलिस सभी बिंदुओं से घटना की जांच करेगी। मृतक के चेहरे और सिर पर चोट है।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story