×

Meerut News: कोरियाई युवतियों से अभद्रता मामले में पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

Meerut News: उत्तर प्रदेश के मेरठ के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में विदेशी दो छात्राओं से अभद्रता के मामले में पुलिस ने आज मेडिकल थाने में अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया है।

Sushil Kumar
Published on: 23 Jan 2023 3:58 PM GMT
Police filed a case in the case of indecency with Korean girls in Meerut
X

 कोरियाई युवतियों से अभद्रता मामले में पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा: Photo- Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Meerut News: उत्तर प्रदेश के मेरठ के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में विदेशी दो छात्राओं से अभद्रता के मामले में पुलिस ने आज मेडिकल थाने में अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया है। एसएसपी रोहित सिंह साजवान ने न्यूज़ ट्रैक से बातचीत में मुकदमा दर्ज किए जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस ने उन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है जिन्होंने की वीडियो बनाकर उसे विभिन्न ग्रुपों में वायरल किया और यह प्रचारित किया कि उक्त छात्राएं ईसाई धर्म का प्रचार कर रही हैं। जबकि ऐसा कुछ नहीं था। उन्होंने बताया कि आरोपियों की शिनाख्त कर जल्दी उनकी गिरफ्तारी की जाएगी।

विदेशी छात्राओं के साथ स्थानीय छात्रों ने की छेड़छाड़

बता दें कि शनिवार को टूरिस्ट वीजे पर दो दक्षिण छात्राएं मेरठ घूमने आई थीं और मेरठ के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय भी घूमने गईं। विश्वविद्यालय कैम्पस में विदेशी छात्राओं को देख कुछ स्थानीय छात्रों ने पहले उनके धर्म के बारे में पूछा। इसके बाद धर्म परिवर्तन का आरोप लगाकर विदेशी युवतियों के साथ अभद्रता करते हुए जय श्री राम के नारे लगाए।

सीओ सिविल लाइन अरविंद चौरसिया का कहना है कि छात्र बेवजह आरोप लगा रहे थे और किसी भी छात्र ने इनके खिलाफ कोई शिकायत पत्र नहीं दिया। युवतियों पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने बताया कि छात्राओं से पूछताछ के बाद उन्हें वापस भेज दिया गया।

वीडियो वायरल

इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। क्योंकि मामला विदेशी छात्राओं का था। इसलिए दिल्ली लखनऊ के अधिकारियों के फोन खटकने शुरू हो गए।केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस से घटना की जानकारी मांगी है। वही यह सवाल भी उठाया जा रहा है कि चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय जहां पर यह घटना हुई है वहां पर पुलिस और निजी सुरक्षा कर्मी तैनात रहते हैं। उन्होंने छात्राओं का बचाव क्यों नहीं किया।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story