Top

कानपुर में दो जगह कम्युनल टेंशन, मोबाइल से नंबर ना निकाल देने पर भिड़े

बिधनू के शिवगंज निवासी रामस्वरूप के मुताबिक उनका बेटा राहुल सुबह कानपुर जा रहा था। तभी गांव के ही नन्हकू ने उसे रोक लिया और मोबाईल से एक नम्बर निकालने को कहा। इस पर राहुल ने देरी की बात कहकर बिना नम्बर निकाले वहां से चला गया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 14 Feb 2016 6:46 AM GMT

कानपुर में दो जगह कम्युनल टेंशन, मोबाइल से नंबर ना निकाल देने पर भिड़े
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: यूपी की औद्योगिक राजधानी एक बार फिर सांप्रदायिकता की भेट चढ़ते-चढ़ते बची। ये शहर हमेशा से संवेदनशील रहा है। यहां अक्सर दो गुटों में हिंसा होती रहती है। शनिवार को यहां दो अलग-अलग इलाकों में कम्युनल टेंशन हुई। कल्यानपुर थाना क्षेत्र के मसवानपुर इलाके में मस्जिद में गेट लगाने को लेकर दो पक्ष आमने सामने आ गए। वहीं बिधनू थानाक्षेत्र में मोबाइल से नंबर न निकालने पर दो समुदाय आपस में भिड़ गए। फिलहाल, दोनों ही इलाकों में भारी पुलिसबल तैनात कर दी गई है।

 मस्जिद के बाहर गेट लगने को लेकर मचा बवाल मस्जिद के बाहर गेट लगने को लेकर मचा बवाल

पहली घटना

-मसवानपुर इलाके में मस्जिद में गेट लगाने को लेकर दो पक्ष आमने सामने आ गए।

-देखते ही देखते दोनों पक्षों के हजारों लोग सड़कों पर उतर आए।

-हंगामे की सूचना के बाद कई थानों की पुलिस व एसीएम छह मौके पर पहुंच गए।

क्या है पूरा मामला?

-मसवानपुर इलाके में गंजसहिदा मस्जिद के मौलाना मस्जिद की बौंड्री में गेट लगवा रहे थे।

-मस्जिद के सामने रहने वाली इंद्रावती पांडेय समेत मोहल्ले के कई लोगों ने इसका विरोध किया।

-इस बीच दोनों पक्षों में गाली-गलौच के साथ मारपीट की नौबत आ गई।

-इंद्रावती के मुताबिक वो 25 साल से रह रहे हैं और तब से मस्जिद के गेट के सामने से आम रास्ता था।

-इसके बाद धीरे-धीरे चार दिवारी खड़ी कर दी गई और अब कुछ लोग गेट लगाने जा रहे हैं।

-यदि गेट लग गया तो सभी को एक लंबा चक्कर लगाकर घर तक आना पड़ेगा।

-उन्होंने बताया कि मस्जिद में गेट लगाने को लेकर इससे पहले भी विवाद हो चुका है।

इलाके में पुलिस फोर्स को तैनात

-मौके पर पहुचे सीओ कल्यानपुर राजेश सिंह ने दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शांत कराया।

-उन्होंने कहा कि इस हंगामे में दोनों पक्षों को मुचलके में पाबंद किया गया है।

-मस्जिद में गेट लगने के काम को रोक दिया गया है और यथास्थिति बनाए रखने के निर्देश दिए गए।

-इलाके में पुलिस फोर्स को तैनात कर दिया है। माहोल बिगाड़ने वालों की तलाश की जा रही है।

दूसरी घटना

-बिधनू थानाक्षेत्र में मोबाइल से नंबर ना निकालने पर दो समुदाय आपस में भीड़ गए।

-झगड़े की सूचना मिलते ही मौके पर सीओ घाटमपुर व कई थानों की फोर्स पहुंची ।

क्या है पूरा मामला?

-बिधनू के शिवगंज निवासी रामस्वरूप के मुताबिक उनका बेटा राहुल सुबह कानपुर जा रहा था।

-तभी गांव के ही नन्हकू ने उसे रोक लिया और मोबाईल से एक नम्बर निकालने को कहा।

-इस पर राहुल ने देरी की बात कहकर बिना नंबर निकाले वहां से चला गया।

मोबाइल से नंबर न निकालने पर बवाल मोबाइल से नंबर न निकालने पर बवाल

-नन्हकू को ये नागवार गुजरा उसने देर शाम सद्दीक, अनीस, सब्बीर, जहीर सहित कई दोस्तों को बुलाया।

-नन्हकू ने रामस्वरूप के घर पर हमला कर दिया, 18 साल की बेटी ज्योति के कपड़े फाड़ दिए।

-साथियों ने मारना–पीटना शुरू कर दिया और उसके कपड़े फाड़ दिए।

-उसकी चीख सुनकर पड़ोसियों ने दूसरे समुदाय के लोगों को दौड़ा लिया और घटना की जानकारी पुलिस कन्ट्रोल रूम में दी ।

मौके पर पुलिस बल तैनात

-सूचना मिलते ही बिधनू एसो समेत सीओ घाटमपुर व् कई थानों की फ़ोर्स मौके पर पहुंची और आक्रोशित ग्रामीणों को शांत करवाया ।

-घाटमपुर सीओ केके सिंह ने बताया की विवाद नशेबाजी के चलते हुआ है । मौके पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

Newstrack

Newstrack

Next Story