Top

बनारस में पत्रकार की मौत पर कांग्रेस आक्रामक, लल्लू ने दी आंदोलन की चेतावनी।

पत्रकार एनडी तिवारी की हत्या मामले में कांग्रेस ने कातिलों पर कार्रवाई की मांग को लेकर आंदोलन की धमकी दी है।

Ashutosh Singh

Ashutosh SinghReport By Ashutosh SinghShashi kant gautamPublished By Shashi kant gautam

Published on 7 April 2021 3:50 PM GMT

death of journalist in Banaras
X

death of journalist in Banaras: (Photo-Social Media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसी। पत्रकार और रियल स्टेट कारोबारी एनडी तिवारी की हत्या का मामला गरमाता जा रहा है। घटना को लेकर अब राजनीति शुरु हो गई है। कांग्रेस ने कातिलों पर कार्रवाई की मांग को लेकर आंदोलन की धमकी दी है। वाराणसी पहुंचे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने स्व।एनडी तिवारी के परिजनों से मुलाकात की। स्थानीय प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर तीन दिनों के अंदर कातिलों को पकड़ा नहीं जाता है तो कांग्रेस बड़ा आंदोलन करेगी।

पत्रकार की मौत पर क्यों राजनीति कर रही है कांग्रेस

अब सवाल ये है कि पत्रकार की हत्या पर कांग्रेस क्यों राजनीति कर रही है। जानकार बता रहे हैं कि एनडी तिवारी पत्रकार होने के साथ रियल स्टेट कारोबारी भी थे। हाल के सालों में उन्होंने कांग्रेस पार्टी की स्थानीय सदस्यता भी ग्रहण की थी। हालांकि पार्टी के कार्यक्रमों में वो ज्यादे सक्रिय नहीं रहते थे लेकिन पार्टी के कई बड़े नेताओं से उनके अच्छे संबंध थे। यही कारण है कि कांग्रेस उनकी मौत के बाद जिला प्रशासन को घेरने में जुटी है। एनडी तिवारी के घर पहुंचे अजय कुमार लल्लू ने उनके भाई और बेटे से मुलाकात की और उन्हें ढांढस बंधाते हुए हर संभव मदद का आश्वासन दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि एनडी तिवारी हमारे पारिवारिक सदस्य थे। उनका जाना हमारे लिए और कांग्रेस के लिए अपूरणीय क्षति है।


कांग्रेस ने दी आंदोलन की धमकी

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पूरी पार्टी एन डी तिवारी के साथ खड़ी है। हम उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं। अपने साथी को न्याय दिलाने के लिए हम सड़क पर प्रदर्शन करेंगे और हम हर हद तक जाने के लिए तैयार हैं। प्रदेश अध्यक्ष ने आला अधिकारियों का तीन दिन का समय देते हुए कहा कि यदि हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो हम काशी में ज़ोरदार प्रदर्शन करेंगे।

परिजनों की सुरक्षा की मांग

प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि कल स्थानीय पार्टी पदाधिकारी और वरिष्ठजन आईजी और पुलिस कमिश्नर से मिलेंगे और उनके सामने परिजनों की सुरक्षा की मांग उठाएंगे। इसके अलावा मै स्वयं इस बात को सदन में उठाऊंगा और मुख्यमंत्री और डीजीपी को पत्र लिखकर उन्हें सुरक्षा के लिए कहूंगा। प्रदेश अध्यक्ष ने एक सवाल के जवाब पर कहा कि उत्तर प्रदेश में माफियाराज है। होली के दिन और उसके अगले दिन मिलाकर वाराणसी और उसके आस-पास के जनपदों में 9 हत्याएं हुई। इसी से अनुमान लगाया जा सकता है कि प्रदेश में क्या हो रहा है। मुख्यमंत्री अन्य प्रदेशों के चुनाव में प्रचार कर रहे हैं और यहाँ हत्या हो रही है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story