×

प्रवीर कुमार बने रहेंगे यूपी आईएएस एसोसिएशन के अध्यक्ष, आलोक कुमार सचिव

आईएएस प्रवीर कुमार आईएएस एसोसिएशन के अध्यक्ष बने रहेंगे। एसोसिएशन की आम बैठक में इस पर मुहर लगी। जबकि आलोक कुमार तृतीय को संघ का सचिव बनाया गया है। अमृता सोनी, प्रांजल यादव व आनंद सिंह संयुक्त सचिव बनाए गए हैं।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 2 Feb 2019 12:19 PM GMT

प्रवीर कुमार बने रहेंगे यूपी आईएएस एसोसिएशन के अध्यक्ष, आलोक कुमार सचिव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: आईएएस प्रवीर कुमार आईएएस एसोसिएशन के अध्यक्ष बने रहेंगे। एसोसिएशन की आम बैठक में इस पर मुहर लगी। जबकि आलोक कुमार तृतीय को संघ का सचिव बनाया गया है। अमृता सोनी, प्रांजल यादव व आनंद सिंह संयुक्त सचिव बनाए गए हैं। पंकज कुमार के पास कोषाध्यक्ष का कार्यभार है। शनिवार को एसोसिएशन की एजीएम में यह एलान हुआ।

आपको बता दें कि दिसम्बर 2017 में आईएएस एसोसिएशन की आम सभा में 1982 बैच के आईएएस अधिकारी प्रवीर कुमार को अध्यक्ष बनाया गया था। उन्हें शैलेश कृष्ण के स्थान पर एसोसिएशन के अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। चूंकि मुख्य सचिव के बाद प्रदेश में काडर के वरिष्ठतम अधिकारी को एसोसिएशन का सचिव बनाए जाने की परंपरा रही है।

इसी वजह से प्रवीर कुमार को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। उसके पहले आशीष गोयल एसोसिएशन के सचिव हुआ करते थे। पर इलाहाबाद का कमिश्नर बनाए जाने के बाद गोयल ने यह जिम्मेदारी छोड़ दी थी।फिर यह प्रभार आलोक कुमार को दे दिया गया था। इस बार भी आलोक कुमार को ही सचिव के पद पर बनाए रखा गया है। इसी तरह पंकज कुमार को कोषाध्यक्ष बनाए रखा गया है।

यहां आपको बता दे कि पिछले वर्षों से केंद्र में प्रतिनियुक्ति की प्रक्रिया में अफसरों की 360 डिग्री प्रोफाइलिंग हो रही है। इसकी वजह से तमाम अफसर प्रतिनियुक्ति से चूक जाते हैं। यूपी आईएएस एसोसिएशन केंद्र सरकार से इस बाबत सवाल पूछेगी कि प्रदेश के अफसरों को केंद्र में प्रतिनियुक्ति किस वजह से नहीं दी जा रही है। एसोसिएशन ने नगर आयुक्त व प्राधिकरणों के पद पर आईएएस अफसरों की तैनाती की मांग को एक बार फिर दोहराया है। पुरूष अफसरों को भी महिला अफसरों की तरह चाइल्ड केयर लीव देने के लिए केंद्र को पत्र लिखा जाएगा।

ये भी पढ़ें...IAS एसोसिएशन- नौकरशाही को सत्ता के आगे झुकाने का प्रयास हो रहा

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story